विजय माल्या की जीवनी | Vijay Mallya Biography in Hindi 

60

परिचय

विजय माल्या भारतीय मशहूर उद्योगपति और राज्यसभा से सांसद हैं। वे UB (United Breweries) समूह और किंगफिशर एयरलाइन्स के अध्यक्ष भी हैं। विजय माल्या विश्व के 962 वें सबसे अमीर व्यक्तियों की श्रेणी में सन 2008 में करीब 72 अरब रुपये के संपत्ति के साथ शामिल हुए और भारत में सबसे अमीर व्यक्तियों की श्रेणी में उनका 42वां स्थान था।

विजय माल्या ने देश के बैंकों से लगभग 9 हजार करोड़ रुपये धोखाधड़ी से निकाले। भारत सरकार ने विभिन्न भारतीय बैंकों के 9 हजार करोड हड़पकर भाग जाने की वजह से विजय माल्या को भगोड़ा घोषित किया है। विजय माल्या पैसे न लौटाने औऱ कार्यवाही से भयभीत होकर ब्रिटेन में जा छुपा है।

विजय माल्या का व्यवसाय उड्डयन, शराब, उर्वरक और रियल एस्टेट जैसे क्षेत्रों में फैला हुआ है। वे फार्मूला वन के सहारा फ़ोर्स इंडिया टीम के मालिक हैं और इस टीम के दूसरे मालिक सुब्रत रॉय सहारा हैं। इसके साथ-साथ विजय माल्या IPL (Indian Premier League) के ‘रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर’, I-League टीमों जैसे मोहन बागान AC और ईस्ट बंगाल FC के भी स्वामी हैं। विजय माल्या की अधिकतर कमाई शराब के कारोबार से है।

शुरुआती जीवन

विजय माल्या का जन्म 18 दिसंबर 1955 को कर्नाटक के मंगलौर के बँटवाल शहर में हुआ था। इनके पिता का नाम ‘विट्टल माल्या’ तथा माता का नाम ‘ललिता रामैया’ था। इनकी शुरूआती पढ़ाई कोलकाता के ‘ला मार्टिनियर बॉयज़ कॉलेज’ से हुई और उन्होंने सेंट जेवियर कॉलेज, कोलकाता (कोलकाता विश्वविद्यालय) से डिग्री हासिल की।

व्यक्तिगत जीवन

विजय माल्या की मुलाकात सन 1986 में एयर इंडिया की एयर होस्टेस, ‘समीरा त्याबजी’ से हुई और दोनों ने शादी कर ली। इन दोनों से 7 मई 1987 को एक बच्चे ‘सिद्धार्थ माल्या’ का जन्म हुआ और कुछ समय बाद दोनों का तलाक हो गया।

विजय माल्या ने दूसरी शादी जून 1993 में ‘रेखा’ के साथ कर ली। वे दोनों एक दूसरे को बचपन से ही जानते थे और इन दोनों के दो बच्चे भी हुए, जिनका नाम ‘लेयन्ना’ और ‘तान्या’ है। रेखा के पिछले शादी से भी दो बच्चे थे, जिनका नाम ‘लैला’ और ‘कबीर’ है।

करियर

सन 1983 में अपने पिता की अचानक मृत्यु होने के बाद विजय माल्या 28 वर्ष की उम्र में यू.बी. समूह के अध्यक्ष बन गए। तब से लेकर अब तक यू.बी. समूह एक बहुराष्ट्रीय समूह की तरह उभरा है, जिसके अंतर्गत करीब 60 कंपनियां हैं और पिछले 15 वर्षों में इसका वार्षिक टर्नओवर 15% से 64% तक बढ़ा।

सन 1998-1999 में $11 बिलियन अमेरिकी डॉलर, भारतीय मुद्रा में लगभग 60 हजार करोड़ रूपये हो गया। विजय माल्या ने समूह की तमाम कंपनियों को मजबूत बनाया। उन्होंने अपना पूरा ध्यान यू.बी. समूह के मुख्य व्यापार शराब पर लगाया और अलग-अलग क्षेत्रों के कई कंपनियों की नींव स्थापित की। इनमें प्रमुख हैं- बर्जर पेंट, बेस्ट, क्रॉम्पटन, मालाबार कैमिकल्स एंड फर्टिलाइज़र्स। मीडिया क्षेत्र में अधिग्रहण किये, जिनमें प्रमुख हैं- ‘द एशियाई एज’ और ‘सिने ब्लिट्ज’।

यू.बी. समूह की मुख्य कंपनी United Spirits Ltd विजय माल्या के नेतृत्व में विश्व की दूसरी सबसे बड़ी शराब बेचने वाली कंपनी बन गयी। सन 2012 में यू.बी. समूह को ‘यूनाइटेड स्पिरिट्स’ का प्रबंध नियंत्रण ब्रिटेन की दिग्गज शराब कंपनी ‘डियाजिओ’ को देना पड़ा।

विजय माल्या ने सन 2005 में किंगफ़िशर एयरलाइन्स की शुरुआत की और यह भारत में पहली एयरलाइन थी, जिसने सभी नए विमानों के साथ कार्य प्रारम्भ किया। इसके साथ-साथ, किंगफिशर एयरलाइंस, एयरबस ए 380 खरीदने वाली भारत की पहली एयरलाइन बन गयी। आर्थिक कुशासन के कारण कंपनी कई वर्षों तक अधिक घाटे में चली और जिस वजह से सन 2013 में इसे बंद करना पड़ा।

विजय माल्या को खेल-कूद में बहुत रूचि है और सन 1970 से 1980 के दशक में उन्होंने कई ट्रैक रेसिंग प्रतियोगिताओं में भाग लिया। इसके अलावा उन्होंने यूरोप के कई क्लासिक रैलियों में भी भाग लिया। रेसिंग के अपने इसी शौक के चलते उन्होंने ‘स्पाइकर 1 F1’ टीम खरीदी और इसका नाम बदलकर ‘फ़ोर्स इंडिया F1’ रख दिया। वर्तमान में इस टीम के दो मालिक हैं- विजय माल्या और सहारा ग्रुप के ‘सुब्रत रॉय’।

विजय माल्या को व्यवसाय, राजनीति और खेलों से लगाव के अलावा एक और शौक के लिए जाना जाता है- ऐतिहासिक महत्व की वस्तुओं को वापस देश में लाना। विजय माल्या ‘टीपू सुल्तान’ और ‘महात्मा गांधी’ के जीवन से जुडी हुई ऐतिहासिक महत्व की चीज़ों को नीलामी में खरीदकर वापस भारत लाने में सफल रहे हैं। इन वस्तुओं में प्रमुख हैं- टीपू सुल्तान की तलवार, जिसे लंदन में उन्होंने एक नीलामी में £ 175,000 में खरीदा।

विजय माल्या का यू.बी. समूह कई प्रतियोगिताओं और टीमों को भी प्रायोजित करता है। उनमें मुख्य इस प्रकार हैं-

  • मक्डॉवेल इंडियन (हॉर्स रेसिंग)
  • किंगफ़िशर डर्बी टीम (हॉर्स रेसिंग)
  • सिग्नेचर गोल्फ टूर्नामेंट (गोल्फ टूर्नामेंट)
  • रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (IPL टीम)
  • मोहन बागान AC (I-League टीम)
  • फ़ोर्स इंडिया (फार्मूला वन कार रेसिंग टीम)
  • ईस्ट बंगाल क्लब AC (I-League टीम)