क्रिया | Kriya | Verb in Hindi

1632

क्रिया – जिस शब्द से किसी कार्य के होने, करने या स्थिति का ज्ञान होता है, उसे क्रिया कहते हैं।

उदाहरण – रोना, हँसना, खाना, पीना, पढ़ना, गाना इत्यादि।

Hindi Verb

क्रिया के प्रकार – क्रिया पाँच प्रकार की होती है-

1) अर्कमक क्रिया – जिस क्रिया का प्रभाव किसी अन्य पर न पड़कर स्वयं कर्ता पर पड़े, उसे अर्कमक क्रिया कहते हैं।

जैसे – प्रभाकर जाता है।

2) सर्कमक क्रिया – जिस क्रिया में कर्म प्रभावित हो, उसे सर्कमक क्रिया कहते हैं।

जैसे – मयंक चाय बनाता है।

3) पूर्वकालिक क्रिया – जब कर्ता पहले एक क्रिया को करके, बाद में दूसरी क्रिया करता है तो वह पूर्वकालिक क्रिया कहलाती है।

जैसे – दुष्यन्त सोकर उठा।

4) प्रेरणार्थक क्रिया – जब कर्ता स्वयं कार्य न करके दूसरों से काम करवाता है या उन्हें कार्य करने को प्रेरित करता है तो वह प्रेरणार्थक क्रिया कहलाती है।

जैसे – सीता गीता से रोटी बनवाती है।

5) संयुक्त क्रिया – जब दो या दो से अधिक क्रियाएँ मिलकर एक पूर्ण क्रिया बनती हैं, तो उसे संयुक्त क्रिया कहते हैं।

जैसे – राम रोने लगा।