उत्तर भारत में  कहीं भूस्खलन तो कहीं बाढ़ जैसे हालात

427

इन दिनों मानसून उत्तर भारत के कई राज्यों में दस्तक दे चुका है, जिसके चलते जमकर बारिश हो रही है। अधिक बारिश होने की वजह से लोगों का जीवन बुरी तरह से प्रभावित है। जानकारी मिली है कि इन दिनों बिहार की नदियाँ उफान पर हैं। मौसम विभाग ने अलर्ट जारी कर दिया गया है कि उफान वाली नदियों से दूर रहें। इसके साथ ही उत्तराखंड, हिमाचल, जम्मू-कश्मीर में आये दिन भूस्खलन हो रहा है, जिससे कई जगहों पर ट्राफिक जाम हो रहा है। खबर के मुताबिक ऋषिकेश में भूस्खलन होने की वजह से NH 58 हाईवे जाम हो गया। उत्तराखंड पिथौरागढ़ में भारी बारिश के चलते कई जगहों से भूस्खलन की खबर आई है। पिथौरागढ़ के मालिपा में एक ब्रिज गिर जाने से करीब 50 लोगों के नदी में गिरने की खबर है, वो लोग तेज बहाव के बीच फंस गए थे, जिन्हें जल्द ही रेस्क्यू किया गया।

उत्तराखंड, हरियाणा, असम, बिहार, गुजरात, पंजाब, मध्य प्रदेश और उत्तराखंड के इन राज्यों में बारिश का कहर जारी है। कई जगह भूस्खलन, चट्टान खिसकने और मलबा गिरने से सड़कें बंद हो गयी हैं, जिसके चलते लोगों की आवाजाही बाधित हुई है। पिथौरागढ जिले में भारी बारिश के बाद भूस्खलन के दौरान पहाड़ी से गिरे पत्थरों की चपेट में आने से एक महिला की मौत की भी खबर है। उत्तराखंड के कैम्पटी-मसूरी रोड और जोशीमठ-मलारी रोड पर भी मलबा गिरने से घंटो जाम लगा, काफी देर के बाद रोड पर से मलबा हटने के बाद ट्राफिक खुला। मौसम विभाग के मुताबिक पिथौरागढ़ के धारचूला और मुनस्यारी इलाके में तीसरे दिन भी भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की गई है। मौसम केन्द्र की रिपोर्ट के मुताबिक राज्य के कई हिस्सों में लगातार बारिश हो रही है। ककराडारिया घाट पर 25 सेंटीमीटर बारिश रिकार्ड की गई, जबकि निघासन में 24 और भिंगा में 23 सेंटी मीटर वर्षा रिकार्ड की गई है।

दिल्ली NCR के नोएडा, मयूर विहार, आनंद विहार समेत कई इलाकों में जहां एक तरफ लोगों को जाम की समस्या से जूझना पड़ा है, तो वहीं पर युवा इस बारिश का पूरा लुत्फ उठा रहे हैं। बारिश में भीगने और गाड़ियां चलाने के लिए सड़कों पर युवा बेताब दिखे। इतना ही नहीं कई जगहों पर युवाओं ने ग्रुप बनाकर ना सिर्फ बारिश का लुत्फ उठाया, बल्कि खूब मस्ती भी की। मौसम विभाग के मुताबिक आगामी 2 दिनों में दिल्ली में भी ऐसा ही मौसम सुहाना बना रहेगा। ट्रैफिक के साथ-साथ मेट्रो सेवा पर भी असर पड़ा है। इसके साथ ही तटीय कर्नाटक और पूर्वोत्तर राज्यों के कुछ इलाकों में तेज और मूसलाधार बारिश का दौर अगले 48 घंटों तक जारी रहने की पूर्ण उम्मीद है। इन इलाकों में बारिश भी शुरू हो गई है। जोरदार बारिश की वजह से कई इलाकों में जाम के हालात हो गए हैं। सड़क पर निकले लोगों को बारिश से बचने के लिए खुद को सुरक्षित जगह की तलाश में भटकना पड़ा। झमाझम बारिश से दिल्ली का मौसम सुहाना हुआ है।  मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार अगले 2 दिन तक दिल्ली में इसी तरह रिमझिम बारिश हो सकती है।