Home मंदिर

मंदिर

हिन्दू धर्म में जैसे- सनातन धर्म, जैन धर्म, बौद्ध धर्म, सिख धर्म आदि हिन्दुओं के पूजा करने के स्थान को मन्दिर कहा जाता है। मन्दिर पूजा-अर्चना करने के लिए निश्चित की गई जगह या स्थान होता है। अर्थात जिस जगह किसी आराध्य देव के प्रति ध्यान किया जाए या वहां मूर्ति इत्यादि रखकर पूजा-अर्चना की जाए, उसे “मन्दिर” कहते हैं।

हिन्दू धर्म जैसे सनातन धर्म, जैन धर्म, बौद्ध धर्म, सिख धर्म आदि हिन्दुओं के पूजा करने के स्थान को मन्दिर कहा जाता है। मन्दिर पूजा-अर्चना करने के लिए निश्चित की गई जगह या स्थान होता है। अर्थात जिस जगह किसी आराध्य देव के प्रति ध्यान किया जाए या वहां...
बांके बिहारी मंदिर भारत के प्राचीन एवं प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है। यह मंदिर उत्तर प्रदेश राज्य के मथुरा जिले के वृन्दावन धाम में रमण रेती नामक स्थान पर स्थित है। बांके बिहारी  भगवान श्री कृष्ण का ही रूप है। बांके बिहारी मंदिर का निर्माण सन. 1864 में...
भोजेश्वर मंदिर मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से लगभग 30  किलोमीटर दूर स्थित भोजपुर नामक गाँव में स्थित है। यह मंदिर वेतवा नदी के किनारे विंध्य पर्वत की श्रंखलाओं के मध्य एक पहाड़ी पर स्थित है। यह भोजपुर मंदिर एक अधूरा शिव मंदिर है। इसका निर्माण सिर्फ एक रात में किया गया...
दाऊजी मंदिर भगवान श्रीकृष्ण के बड़े भाई बलराम जी को समर्पित है। दाऊजी मंदिर (बलराम जी) का मुख्य बलदेव मंदिर मथुरा जिले के बलदेव में स्थित है। यह मंदिर वल्लभ सम्प्रदाय का सबसे पुराना मंदिर माना जाता है। दाऊजी मंदिर यमुना नदी के तट पर स्थित है। इस मंदिर...
द्वारकाधीश मंदिर भारत के प्रमुख बड़े मंदिरों में से एक है। द्वारकाधीश मंदिर उत्तर प्रदेश राज्य के मथुरा जिले में यमुना नदी के किनारे विश्राम घाट के पास में स्थित है। यह एक प्रसिद्ध हिन्दू मंदिर है, जो भगवान श्री कृष्ण को समर्पित है। इस मंदिर का निर्माण सन....
उतर प्रदेश के मथुरा जिले के अंतर्गत गोवर्धन एक नगर पंचायत है। गोवर्धन के आस-पास के क्षेत्र को ब्रज भूमि भी कहा जाता है। यह भगवान श्री कृष्ण की लीला स्थली है। यहीं पर भगवान श्री कृष्ण ने द्वापर युग में ब्रजवासियों को इंद्र के प्रकोप से बचाने के...
इस्कॉन मंदिर एक प्रसिद्ध हिन्दू मंदिर है, जो श्री कृष्ण और उनके बड़े भाई बलराम को समर्पित है। इस्कॉन मंदिर को श्री कृष्ण बलराम मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। यह मंदिर उत्तरप्रदेश राज्य के मथुरा जिले के वृन्दावन में भक्तिवेदांत स्वामी मार्ग, रमन रेती में स्थित...
मध्यप्रदेश के उज्जैन से लगभग 5 किलोमीटर की दूरी पर काल भैरव का मंदिर शिप्रा नदी के तट पर स्थित है। इस मंदिर की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि यहाँ पर भगवान काल भैरव साक्षात रूप में मदिरा पान करते हैं। जैसा कि हम जानते हैं, काल भैरव के...
केदारनाथ मंदिर उत्तराखण्ड राज्य के रुद्रप्रयाग जिले में स्थित है। केदारनाथ मंदिर एक प्रसिद्ध हिन्दू मंदिर है जो भगवान शिव को समर्पित है। हिमालय पर्वत की गोद में बसा यह मंदिर 12 ज्योतिर्लिगों में सम्मलित होने के साथ चार धाम और पंच केदार में से भी एक है। यहाँ...
महाकालेश्वर मंदिर मध्यप्रदेश राज्य के उज्जैन नगर में स्थित है। यह मंदिर भारत के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक है। इसे भगवान शिव का सबसे पवित्र तीर्थस्थल माना जाता है। यह मंदिर “रूद्र सागर” नदी के किनारे स्थित है। यह भारत का एक मात्र ज्योतिर्लिंग है, जो दक्षिणमुखी है।...

खबरें छूट गयी हैं तो