स्वच्छ भारत अभियान

0
80

स्वच्छ भारत अभियान भारत सरकार द्वारा आरम्भ किया गया राष्ट्रीय स्तर का अभियान है जिसका उद्देश्य गलियोंए सड़कों को साफ-सुथरा करना है। स्वच्छ भारत मिशन या स्वच्छ भारत अभियान भारत सरकार द्वारा चलाया गया एक विशाल जन आंदोलन है, जो पूरे भारत में सफाई को बढ़ावा देता है। इस अभियान को 2019 तक स्वच्छ रखते हुए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने 24 सितंबर 2014 को स्वच्छ भारत अभियान को मंजूरी दी, जो पिछली सरकार द्वारा शुरू किए गए निर्मल भारत अभियान का संशोधित रूप है।

स्वच्छ भारत अभियान को स्वच्छ भारत मिशन और स्वच्छता अभियान भी कहा जाता है। यह एक राष्ट्रीय स्तर का अभियान है। यह अभियान आधिकारिक रूप पर राजघाट, नई दिल्ली में 02 अक्टूबर 2014 को महात्मा गाँधी की 145 वीं जयंतीपर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा आरम्भ किया गया था। इस मिशन का मुख्य उद्देश्य सभी ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों को कवर करना है, ताकि दुनिया के सामने हम एक आदर्श देश का उदाहरण प्रस्तुत कर सकें।

स्वच्छ भारत का उद्देश्य व्यक्ति, क्लस्टर और सामुदायिक शौचालयों के निर्माण के माध्यम से खुले में शौच को कम करना या खत्म करना है। सरकार ने 2 अक्टूबर 2019 को महात्मा गांधी के जन्म की 150 वीं वर्षगांठ तक ग्रामीण भारत में 1.96 लाख करोड़ रुपये की अनुमानित लागत के 1.2 करोड़ शौचालयों का निर्माण करके खुले में शौच मुक्त भारत को हासिल करने का लक्ष्य रखा है।

इस अभियान में बहुत ही रूचि पूर्ण तरीका उपयोग हो रहा है, जिसमें एक व्यक्ति 9 लोगों को इससे जुड़ने के लिए आमंत्रित करेगा और फिर वह प्रत्येक व्यक्ति अगले 9 लोगों को जुड़ने के लिए आमंत्रित करेंगे और यह श्रंखला तब तक चलती रहेगी जब तक की भारत का प्रत्येक नागरिक इससे जुड़ ना जाये। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में 2017 में सरकारी भवनों की सफाई सुनिश्चित करने के लिए स्वच्छता अभियान शुरू किया है। इसके अनुसार उन्होंने सरकारी कार्यालयों में पानगुटखा और अन्य तम्बाकू उत्पादों पर प्रतिबन्ध लगा दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here