पृथ्वी बचाओ स्लोगन | Prithavi Bachao Slogan

435

प्रथ्वी हमारी मूल्यवान धरोहर है और इसकी रक्षा करना हम सबका परम कर्तव्य है। प्रकृति ने उपहार स्वरूप हमें सूर्य, चंद्रमा, हवा, पानी, नदियां, धरती, पहाड़, हरे-भरे जंगल और धरती की कोख में छिपी हुई खनिज संपदा हमारी सहायता के लिए दी है। मनुष्य अपने स्वार्थ के लिए इन प्रकृतिक संसाधनों का दुरूपयोग कर रहा है। मनुष्य अपनी मेहनत से धन तो कमा सकता है लेकिन प्रकृतिक धरोहर को कभी नहीं बढ़ा सकता। हम सबको इस बात पर गंभीर होकर विचार करना चाहिए कि कुदरत ने धरोहर के रूप में जो उपहार दिये हैं, उनका हम सही तरह से उपयोग करें और भविष्य की पीढ़ी के लिए इन उपहारों को संभाल कर रखें।

‘पृथ्वी बचाओ’ विषय पर आधारित स्लोगन निम्नलिखित हैं।

स्लोगन.1

पृथ्वी हमारा घर है, और घर को नष्ट नहीं करते।

स्लोगन.2

आने वाली पीढ़ी है प्यारी, तो पृथ्वी को बचाना है हमारी जिम्मेदारी।

स्लोगन.3

धरती बचाओ, जीवन बचाओ, जीवन को खुशहाल बनाओ.

स्लोगन.4

वक्त है कुछ करने का, धरती को बचाने का।

स्लोगन.5

अर्थ (Earth) का कुछ करो, नहीं तो अनर्थ हो जायेगा

स्लोगन.6

जंगल को सुरक्षित रखिये, धरती को विनाश से बचायें।