संजय दत्त की जीवनी | Sanjay Dutt Biography in Hindi

247

परिचय

संजय दत्त फिल्म जगत के एक बहुत बड़े अभिनेता हैं। लोग संजय दत्त को प्यार से संजू बाबा, मुन्ना भाई भी कहते हैं। संजय दत्त पॉलिटिक्स में भी अपना हाथ आजमा चुके हैं तथा 1993 में मुंबई में हुए बम धमाकों की वजह से भी चर्चा में रहे हैं। उस दौरान संजय दत्त ने अपनी आत्मरक्षा के लिए गैर-क़ानूनी तरीके से अपने पास हथियार रखे थे। मुंबई बम धमाके के बाद संजय दत्त का नाम अंडरवर्ल्ड से जुड़ गया था। उनके पास से गैर क़ानूनी हथियार मिले, इसलिए इन्हें जेल जाना पड़ा था। संजय दत्त की 1993 में रिलीज हुई फिल्म “खलनायक“ हिट रही। संजय दत्त ने लगभग हर तरह की फिल्मों में काम किया है और इनके चलने के अंदाज के आज भी लाखों दीवाने हैं।

जन्म व परिवार

संजय दत्त का जन्म मुंबई में 29 जुलाई 1959 को मशहूर फिल्म अभिनेता सुनील दत्त और नरगिस के घर हुआ था। उनके पिता सुनील दत्त और उनकी माता नरगिस ने हिन्दी फिल्म इंडस्ट्री में कई सुपरहिट फिल्में दी। संजय दत्त ने 1987 में ऋचा शर्मा के साथ शादी की। ऋचा शर्मा का ब्रेन ट्यूमर होने की वजह से 1996 में देहांत हो गया। ऋचा शर्मा से उनकी एक बेटी हुई, जिसका नाम त्रिशाला है। ऋचा शर्मा के बाद संजय दत्त ने रिया पिल्लई से शादी की, लेकिन उनसे उनका तलाक हो गया। 2008 में संजय दत्त ने मान्यता से गोवा में शादी की और 21 अक्टूबर 2010 को वे जुड़वा बच्चों के पिता बने। संजय दत्त के लड़के का नाम शहरान और लड़की का नाम इकरा है।

शिक्षा

संजय दत्त की आरंभिक शिक्षा “द लॉरेंस स्कूल” सनावर से हुई, सनावर हिमाचल प्रदेश में कसौली के पास है। संजय दत्त ने बहुत कम उम्र में ही फिल्मों में काम करना शुरु कर दिया था और फिल्मों में ही अपना फोकस रखा।

फ़िल्मी करियर

संजय दत्त का फिल्मी करियर उतार-चढ़ाव से भरा हुआ है। एक बाल कलाकार के रूप में संजय दत्त ने 1972 में अपने पिता सुनील दत्त द्वारा निर्मित फ़िल्म “रेशमा और शेरा” में पहली बार अभिनय किया। इस फ़िल्म में संजय दत्त एक कवाली गायक के रूप में दिखाई दिये। उसके बाद संजय दत्त ने 1981 में फ़िल्म रॉकी से बॉलीवुड में प्रवेश किया। वो 1982 की सबसे ज्यादा कमाई वाली फ़िल्म “विधाता” से फ़िल्मी-एक्टर बने। 1985 में उनकी फ़िल्म “जान की बाज़ी” प्रदर्शित हुई। इसके अलावा संजय दत्त ने कई सफल फ़िल्मों में जैसे- मैं आवारा हूँ, जीवा, नाम, कब्ज़ा, मेरा हक़, ईमानदार, हथियार, इनाम दस हज़ार, जीते हैं शान से, मर्दों वाली बात, इलाका, हम भी इंसान हैं, कानून अपना अपना और ताकतवर में काम किया। इसके बाद संजय दत्त ने काफी सारे अच्छे कलाकारों के साथ काम किया।

फिल्म “खलनायक” में निभाया गया बल्लू का किरदार दर्शकों ने बहुत ही पसंद किया, जो आज भी सभी के जेहन में है। 1993 में मुंबई में हुए बम धमाकों की वजह से संजय दत्त को कई बार जेल के चक्कर लगाने पड़े। इस वजह से संजय दत्त को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। 1999 का वर्ष उनके लिए वापसी का वर्ष रहा। 1999 में उनकी फ़िल्म ‘वास्तव’ के लिये उन्हें पहला फ़िल्म फेयर पुरस्कार मिला। उनकी सबसे सफल फ़िल्म ‘लगे रहो मुन्ना भाई’ 2006 में प्रदर्शित हुई। उन्हें मुन्ना भाई के अभिनय के लिए विभिन्न पुरस्कारों सहित भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री डॉ॰ मनमोहन सिंह से भी पुरस्कार मिला।

बिग बॉस 5

संजय दत्त ने सलमान खान के साथ भारतीय रियलिटी शो “बिग बॉस” के पांचवें भाग की को-होस्टिंग की। शो 2 अक्टूबर 2011 से 7 जनवरी 2012 तक कलर्स टेलीविजन पर प्रसारित हुआ। बाद में संजय दत्त ने कहा कि यह सलमान खान था, जिसने उन्हें शो की को-होस्टिंग करने के लिए राजी किया था।

जीवन पर आधारित फिल्म

संजय दत्त की जिंदगी पर आधारित राजकुमार हिरानी की फिल्म “संजू” शुक्रवार 29 जून 2018 को रिलीज हुई थी। संजू का 7 दिनों का बॉक्स ऑफिस कलेक्शन 202.51 करोड़ तक पहुंच गया। इस फिल्म में लीडिंग अभिनेता रणबीर कपूर हैं, जो इस फिल्म में संजय दत्त का किरदार निभा रहे हैं। इस फिल्म की कहानी संजय दत्त की जिन्दगी पर आधारित है कि किस तरह उन पर इल्जाम लगे और उनको जेल जाना पड़ा था।