पुनर्नवा | Punarnava in Hindi

532
हिंदी नाम अंग्रेजी नाम (English Name) वैज्ञानिक नाम (Scientific Name)
पुनर्नवा पुनर्नवा (Punarnava) बोअरहेविया डिफ्यूजा (Boerhaavia diffusa)

 

पुनर्नवा का वैज्ञानिक नाम बोअरहेविया डिफ्यूजा (Boerhaavia diffusa) है। पुनर्नवा से पीलिया (Jaundice), जिगर (Liver) की सुजन, आखों की सुजन, मोतियाबिंद (Cataracts), अनिद्रा (Insomnia) और गठिया (Arthritis) जैसी आदि समस्याओं में लाभ मिलता है।

पुनर्नवा के फायदे

  1. पुनर्नवा से जिगर (Liver) की सुजन को ठीक करने में मदद मिलती है।
  2. वृद्धावस्था में पुनर्नवा की जड़ की रस का नियमित सेवन करने से पुन: युवा होने का एहसास होता है।
  3. पुनर्नवा पीलिया (Jaundice) रोग को ठीक करने में मदद करता है।
  4. पुनर्नवा की जड़ को घी के साथ लेप बनाके आखों की सुजन पर लगाने से राहत मिलती है।
  5. पुनर्नवा को पानी के साथ पीसकर लेप बनाके आखों पर लगाने से मोतियाबिंद (Cataracts) की समस्या खत्म हो जाती है।
  6. नियमित पुनर्नवा का काढ़ा सेवन करने से गुर्दे (Kidney) की पथरी में लाभ मिलता है।
  7. पिसी हुई पुनर्नवा की जड़ में शहद मिलाकर आखों पर लगाने से आंख में पानी आने की परेशानी दूर होती है।
  8. प्रोस्टेट ग्रंथि (Prostate Gland) के बढ़ने पर पुनर्नवा की जड़ के चूर्ण का सेवन करने से लाभ मिलता है।
  9. पुनर्नवा का काढ़ा बनाकर सेवन करने से अनिद्रा (Insomnia) की समस्या खत्म होती है।
  10. तेल में पुनर्नवा की जड़ को गर्म करके उस तेल को त्वचा पर लगाने से सभी प्रकार के त्वचा रोगों में लाभ मिलता है।
  11. पुनर्नवा से गठिया (Arthritis) रोग की सुजन और दर्द में लाभ मिलता है।
  12. पुनर्नवा की जड़ का चूर्ण और हल्दी को गर्म पानी के साथ सेवन करने से दमा (Asthma) में राहत मिलती है।