प्रधानमंत्री आवास योजना

0
85

माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने भारत में लोगों की आवास सम्बन्धी समस्याओं को समझते हुए एक नई योजना का शुभारंभ 25 जून 2015 को किया, जिसका नाम “प्रधानमंत्री आवास योजना” रखा गया है। इस योजना के अंतर्गत वर्ष 2015 से 2022 तक मकानों का निमार्ण किया जायेगा, जो बहुत ही सस्ती कीमतों पर उपलब्ध होंगे। प्रधानमंत्री आवास योजना का मकसद ऐसे लोगों को अपना घर दिलाना है, जो जमीन एवं फ्लेट की बढ़ती हुई कीमतों की वजह से अपना मकान ले पाने में असमर्थ हैं। इस योजना के अंतर्गत बहुत ही उचित कीमत पर अपना घर खरीद पाएँगे। इस परियोजना के अंतर्गत 2 करोड़ से ज्यादा मकानों का निमार्ण किया जा रहा है। सारा निमार्ण कार्य 2015 से लेकर 2022 तक अर्थात इन 7 सालों के अन्दर किया जायेगा।

इस योजना के अंतर्गत शहरों में मकान बनाने की कोशिश कर रहे लोगों को 9 लाख रूपये के होम लोन पर 4 प्रतिशत की छूट और 12 लाख तक के होम लोन पर 3 प्रतिशत की छूट दी गई है। इस योजना के अंतर्गत ग्रामीण इलाकों में बनाए जाने वाले घरों के लक्ष्य में 33 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी की गई है, यानि ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले 33 प्रतिशत ज्यादा लोगों को अब इस योजना में शामिल किया जा सकता है। प्रधानमंत्री ने होम लोन पर लिए जा रहे ब्याज की दरों में कटौती करने की घोषणा की है, इसका लाभ सभी वर्ग के लोगों को मिलेगा। इसके अलावा जो लोग ग्रामीण क्षेत्रों में अपने मकान को बढ़ाने के लिए निर्माण करना चाहते हैं या मरम्मत करवाना चाहते हैं, उनको इस योजना के अंतर्गत 2 लाख रूपये तक के लोन लेने पर दिए जाने वाले ब्याज में 3 प्रतिशत की छूट दी जाएगी।

प्रधानमंत्री आवास योजना को 3 चरणों में पूरा किया जायेगा। इस योजना का प्रथम चरण अप्रैल 2015 से मार्च 2017 तक चलेगा और इस अवधि में 100 शहरों को कवर किया जायेगा। द्वितीय चरण अप्रैल 2017 से मार्च 2019 तक चलेगा और इस अवधि में 200 अतिरिक्त शहरों के नाम जोड़े जायेंगे। योजना का तृतीय चरण अप्रैल 2019 से मार्च 2022 तक चलेगा और इस अवधि में अन्य शहरों को जोड़ा जायेगा। प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ EWS(Economically Weaker Section) और LIG (Lower Income Groups) श्रेणी के परिवारों की ही मिलेगा। आवेदक को अपने आप को EWSया LIG श्रेणी का प्रमाणित करने के लिए स्व-प्रमाणित हलफनामा प्रस्तुत करना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here