कल IND vs ENG के बीच नॉटिंघम के ट्रेंट ब्रिज मैदान पर खेले गए पहले वनडे मैच में टीम इंडिया ने इंग्लैंड की टीम को 8 विकेट से हराकर सीरीज में 1-0 से बढ़त हासिल कर ली है। कहा जा रहा है कि कल के मैच में टीम इंडिया को जीत धुरंधर रोहित शर्मा के 18वें वनडे शतक और कुलदीप यादव के करियर बेस्ट 6 विकेट की बदौलत मिली थी।

मैच का हाल

कल इंडिया ने नॉटिंघम के ट्रेंट ब्रिज मैदान पर टॉस जीता, लेकिन इंग्लैंड की टीम ने पहले बैटिंग करने का निर्णय किया। इसी के साथ इंग्लैंड की टीम ने पहले बैटिंग करते हुए पूरी टीम 49.5 ओवर में केवल 268 रन पर ही ढेर हो गई और इसी के साथ इंग्लैंड ने टीम इंडिया को 269 का टारगेट दिया, जो टीम इंडिया के लिए कठिन नहीं था।

इंग्लैंड की बैटिंग

शुरुआत के 2 ओवर में इंग्लैंड ने बिना कोई विकेट गंवाए 11 रन बनाए और टीम इंडिया की तरफ से उमेश यादव और सिद्धार्थ कौल ने अपने ओवर में 5-5 रन दिए। इंग्लैंड के लिए जोस बटलर ने 51 गेंदों में 5 चौकों की मदद से 53 रनों की पारी खेली, 8वें ओवर में जॉनी बेयरस्टॉ ने सिद्धार्थ कौल की गेंद पर छक्का जड़ते हुए इंग्लैंड को 50 रन के पार पहुंचाया। इस ओवर के बाद बेयरस्टॉ 30 और जेसन रॉय 24 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद थे। 10 ओवर तक टीम इंडिया को कोई भी सफलता नहीं मिली, तब तक इंग्लैंड के 71 रन बन चुके थे। अब टीम इंडिया को विकेट की तलाश थी और इसी को लेकर कप्तान विराट कोहली ने गेंद कुलदीप यादव को थमाई। कुलदीप ने भी कप्तान को खुश किया और खतरनाक दिख रहे जेसन रॉय को अपने ओवर की दूसरी ही गेंद पर पवेलियन लौटा दिया।

अगर कोई टीम इंडिया को टक्कर देने आता तो वह अकेले जेसन रॉय ही देते, लेकिन जब वह कुछ अच्छे फर्म में आए तो उनका विकेट गिर गया। उसके बाद इंग्लैंड की टीम मोतियों की तरह बिखर गयी और लम्बा शॉट खेलने के चक्कर में रॉय भी उमेश यादव को कैच थमा बैठे, रॉय 6 चौके के साथ 38 रन बनाकर आउट हुए। 12वें ओवर में कुलदीप यादव ने पहली ही गेंद पर ‘जो रूट’ का सबसे अहम विकेट चटका दिया। ओवर की आखिरी गेंद पर कुलदीप यादव ने जॉनी बेयरस्टॉ की पारी का भी खेल ख़त्म कर दिया। मैच के अंतिम ओवर में गेंदबाजी करने आये युजवेंद्र चहल ने ओवर की दूसरी गेंद पर इंग्लैंड के कप्तान इयोन मॉर्गन को आउट कर दिया, जिन्होंने 20 गेंदों की पारी में 2 चौके और 1 छक्का की मदद से 19 रन बनाकर आउट हुए और अंत में इसी के साथ 49.5 ओवर में 268 रन पर ही ढेर हो गई।

इंडिया की बैटिंग

धवन ने मैदान पर उतरते ही आक्रामक रवैया अपनाया, उन्होंने मार्क वुड और के डेविड विली के ओवरों में तीन-तीन चौके मारे। उनका साथ देने आये रोहित शर्मा ने वुड के ओवर में छक्के के साथ सातवें ओवर में भारत का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया। धवन हालांकि अधिक समय तक मैदान में नहीं जमें और अगले ओवर में केवल 27 गेंद की पारी में 8 चौके ही मारकर आउट हो गये। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने वुड की गेंद पर चौके से खाता खोला, जबकि इसी ओवर में रोहित ने भी दो चौके जड़े। भारत का 15वें ओवर में 100 रन का आंकड़ा पूरा हुआ। विराट कोहली ने इस बीच स्टोक्स और लियाम प्लंकेट की गेंद पर चौके जड़े। रोहित शर्मा ने 54 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया। विराट कोहली ने वुड की गेंद पर चौके के साथ 55 गेंद में 50 रन के आंकड़े को छुआ। रोहित ने वुड के इस ओवर में 2 चौके और मारे। रोहित ने मोईन की लगातार गेंदों पर छक्का और चौका मारा, लेकिन 92 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे, जब प्लंकेट की गेंद पर प्वॉइंट पर जेसन रॉय से उनका मुश्किल कैच छूट गया। हालांकि कोहली इसके बाद रशिद की गेंद को आगे बढ़कर खेलने की कोशिश में चूक गए और बटलर ने उन्हें स्टंप आउट कर दिया। रोहित ने आदिल रशिद की गेंद पर पर छक्के के साथ 82 गेंद में शतक पूरा किया। भारत को इस समय 17 ओवर में जीत के लिए 43 रन की दरकार थी और रोहित ने लोकेश राहुल (नाबाद 09) के साथ मिलकर टीम को लक्ष्य तक पहुंचा दिया और 8 वीकेट से मैच को जीत लिया।