तोता | Tota | Parrot in Hindi

395

तोते का वैज्ञानिक नाम सिटाक्यूला क्रेमरी (Pscittacula Krameri) है और तोते को अंग्रेजी में पैरेट (Parrot) कहते हैं। तोता जंगली और घरेलू पक्षी है। तोता छोटे आकार का लम्बी और पतली पूंछ वाला पक्षी है। यह एक बहुत सुन्दर पक्षी है। तोता हरे रंग का पक्षी है, यह 10-12 इंच लंबा होता है, जिसके गले पर लाल कंठ होता है और यह बहुत ही प्रिय पक्षी है। तोते की चोंच लाल होती है। इसकी बोली तेज और बेसुरी होती है, लेकिन इसे कोई भी ध्वनी सिखाई जाए तो यह साफ बोल सकता है। तोते की आवाज़ तीखी क्रीक क्रीक क्रीक, चाहे उड रहा हो या बैठा हो यह शोर मचाता ही है। इसकी उड़ान नीची और लहरदार, लेकिन तेज होती है। तोता पक्षियों के सिटैसिफ़ॉर्मस गण के सिटैसिडी कुल का पक्षी है।

आहार

तोते का मुख्य आहार नरम फल होते हैं जैसे अमरुद, आम आदि। तोते का सबसे पसंदीदा खाना हरी मिर्च होता है। यह टमाटर, चने, मूंगफली, बीज आदि जैसी चीज़ें भी खाना पसंद करता हैं। इसकी चोंच इतनी पैनी होती है कि वह चंद सैकंड में ही बेर की गुठली को तोड़ कर उसके अंदर के दाने को चट कर जाता है। यह खाना अपने पंजों से पकड़ कर खाते है। यह फलों और बागों व फ़सलों को ज्यादा नुकसान पहुँचाते हैं। तोतों के लिए चोकलेट ज़हरीली होती है।

विशेषता

तोता दुनिया के सबसे खुबसूरत पक्षियों में से एक है लेकिन खुबसूरत होने के साथ-साथ तोता एक विचित्र पक्षी भी है। पूरे विश्व में कई प्रकार के विभिन्न रंगों के तोते मिलते हैं, खास तौर पर अफ्रीका में। तोते भारत में कहीं भी आसानी से देखे जा सकते हैं चाहे वह हिमालय की तराई हो या राजस्थान के कम पेड़ों वाले इलाके। तोते की उड़ान तेज गति वाली और सीधी दिशा में होती है। इसकी आवाज को छोटे बच्चे भी पहचान जाते हैं। तोता मनुष्यों की और अन्य ध्वनियों की नकल कर सकता हैं। तोता सबसे चतुर पक्षी माना जाता है। इनके सीखने की प्रवृत्ति बहुत अधिक होती है। एसा मन जाता है की तोता मनुष्य द्वारा पाला जाने वाला सबसे पुराना और सबसे पहला पक्षी है। तोते का जीवन काल करीब 10-75 साल का होता है। तोते की चिल्लाने की आवाज़ करीब एक मील दूर से सुनी जा सकती है। तोते अपना घर अक्सर किसी पेड़ के गड्ढे में ही बनाना पसंद करते हैं। एक नर और मादा तोते को देखकर पहचाना नहीं जा सकता उसके लिए ब्लड टेस्ट करना पड़ता है जिससे यह पता लग सके की नर है या मादा।