ऊटी | Ooty in Hindi

152

तमिलनाडु में नीलगिरि की पहाड़ियों में बसा ऊटी बहुत ही सुंदर है। ऊटी नीलगिरी जिले की राजधानी है। समुद्र तल से ऊटी की ऊँचाई लगभग 2240 मीटर है। यहां साल भर मौसम सुहावना ही रहता है। ऊटी में घुड़सवारीमाउंटेन बाइकिंग और ट्रेकिंग का मजा भी उठा सकते हैं। ऊटी का वास्तविक नाम ‘ऊदगमंडल’ है। ‘ऊदगमंडल’ पहले कभी आदिवासियों का गढ़ था। बाद में अंग्रेजों ने यहाँ आकर इस क्षेत्र का विकास किया।

ऊटी में घूमने के लिए रोज गार्डन के साथ-साथ बाॅटेनिकल गार्डन भी है, जहां प्राकृतिक खूबसूरती के दिलकश नजारे पर्यटकों को मंत्रमुग्ध कर देते हैं। ऊटी में चाय के बागान भी हैं, जो देखने में काफी आर्कषक लगते हैं। बाॅटेनिकल गार्डन के पास ही सेंट स्टीफन चर्च मौजूद है। यह सिर्फ ऊटी का ही नहीं बल्कि नीलगिरि की पहाड़ियों का भी सबसे प्राचीन चर्च है। इसके साथ-साथ घूमने के नजरिये से पर्यटकों के लिए ऊटी लेक भी काफी महत्त्वपूर्ण है। ऊटी लेक प्राकृतिक रूप से निर्मित न होकर मानव निर्मित है। इसका निर्माण सन् 1824 में जाॅन सुलिवन ने करवाया था। पर्यटक यहाँ पर घुड़सवारी के साथ-साथ बोटिंग का भी मजा ले सकते हैं। यहाँ पर बच्चों के लिए टाॅय ट्रेन की भी अच्छी व्यवस्था है। ऊटी में शाम का नजारा बहुत ही अलौकिक और अद्भुत होता है। ब्लूमाउंटेन एक्सप्रेस की धीमी रफ्तार के सफर में आप ऊटी की सुंदरता का लुत्फ उठा सकते हैं। ऊटी को भारत के मुख्य पर्यटन स्थलों में गिना जाता है। यह जगह ‘हनीमून स्पाॅट’ के नाम से भी मशहूर है। यहाँ की हरियाली और मौसम दोनों ही नवविवाहित जोड़ों की अपनी ओर आकर्षित करते हैं।

अगर आपको दक्षिण भारतीय खाना पसंद है तो आपको यहां इडली-डोसा सुबह से रात तक खाने को मिलेगा और आप यहां हर तरह के व्यंजन का स्वाद ले सकते हैं। टूरिस्ट जगह होने के कारण यहां हर प्रकार का स्वादिष्ट खाना मिलता है।

ऊटी कैसे जाएं

ऊटी पहंुचने के लिए कोयंबटूर निकटतम हवाई अड्डा है, जो ऊटी से लगभग 90 कि.मी. की दूरी पर स्थित है। दिल्ली से ऊटी तक पहुंचने के लिए कोयंबटूर होकर जाना पड़ेगा, क्योंकि ऊटी में न ही रेलवे स्टेशन है और न ही हवाई अड्डा। कोयंबटूर हवाई मार्ग, रेल मार्ग और सड़क मार्ग से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है। हवाई मार्ग द्वारा दिल्ली से कोयंबटूर की दूरी लगभग 1960 कि.मी. है। रेल मार्ग द्वारा दिल्ली से कोयंबटूर की दूरी लगभग 2599 कि.मी. है और सड़क मार्ग द्वारा दिल्ली से कोयंबटूर की दूरी लगभग 2486 कि.मी. है। ऊटी में लगभग साल भर कभी भी जाया जा सकता है, लेकिन मार्च से जून तक का महीना सबसे उच्छा माना जाता है। इस समय मौसम बहुत ही सुहावना होता है। आप वहां सितंबर और अक्टूबर के महीने में भी जा सकते हैं। इस दौरान न तो ज्यादा गर्मी होती है और न ही ज्यादा सर्दी।