ओडिशा, आंध्र प्रदेश में ‘तितली’ तूफान के बाद दिल्ली-NCR में चली धूल भरी आंधी

23

विकराल रूप धारण कर चुके ‘तितली’ तूफान ने आंध्र प्रदेश और ओडिशा में भारी तबाही मचाई है। गुरुवार को आंध्र प्रदेश के श्रीकुलुलम और विजयनगरम जिलों में 8 लोगों की मौत हो गई। दोनों जिलों में बिजली आपूर्ति और संचार प्रणाली प्रभावित हुई है। सड़कों के क्षतिग्रस्त होने के कारण तटीय गांव मुख्य इलाकों से कट चुके हैं।

वहीं अब चक्रवात ओडिशा के गोपालपुर के बाद पश्चिम बंगाल की तरफ बढ़ रहा है। गुरुवार सुबह 5:25 बजे तितली तूफान दक्षिण ओडि़शा के गोपालपुर एवं उत्तर आन्ध्र प्रदेश के कलिंग पटनम में स्थल भाग से टकराने के बाद वहां पर भारी बारिश होने के साथ ही 102 किमी. प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चल रही है। मौसम विभाग ने पहले हवा की गति 160 से 165 किमी. प्रति घंटा रहने का अनुमान लगाया गया। हालांकि हवा की गति इससे काफी कम होने से लोगों के साथ प्रशासन ने भी राहत ली है, मगर तटीय जिलों में भारी बारिश का दौर जारी रहेगा।

चिल्का झील समुद्री तूफान के चलते अशांत

समुद्री तूफान तितली के कारण चिल्का झील पूरी तरह से अशांत हो गई है। यहां तक कि समुद्र एवं चिल्का झील की धारा मिलने के बाद 5 फुट ऊंचा समुद्री ज्वार उठा, जो बांध को पार करते हुए गांव के अन्दर घुस गया। यह प्रक्रिया इतनी देर तक चली कि गांव के अन्दर 3 फुट ऊंचा समुद्र का पानी हिलोरे मारने लगा।

पुरी में समुद्र भी चक्रवाती तूफान से अशांत

चक्रवाती तूफान तितली का सीधा प्रभाव पुरी में भी देखने को मिला। यहां पर पवन की गति काफी कम रही। यहां पर तूफान के प्रभाव से गुरुवार सुबह के समय 50 से 60 किमी. प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चली, मगर समुद्र पूरी तरह से अशांत हो गया। समुद्र में ऊंची-ऊंची लहरें हिलोरा मार रही हैं। हालांकि तूफान के प्रभाव से पुरी शहर में किसी प्रकार का कोई नुकसान होने का समाचार नहीं है।

 

दिल्ली NCR में चल रही धूल भरी आंधी

ओडिशा में ‘तितली’ चक्रवाती तूफान आने के बाद आज दिन में अचानक दिल्ली NCR का मौसम बदल गया। गुरुवार सुबह तो मौसम सामान्य था, लेकिन दिन में 1 बजे के बाद से पूरे NCR में तेज धूलभरी आंधियां चलने लगीं। इसकी वजह से पूरे क्षेत्र का मौसम ठंडा हो गया है। आंधी चलने के साथ धूप भी निकली हुई है, लेकिन हवाएं इतनी ठंडी हैं कि धूप का कोई असर नहीं है। आंधी चलने से सड़क पर चलने वालों को काफी परेशानी हो रही है।

उत्तराखंड में तूफान का अलर्ट

उत्तराखंड के देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी गढ़वाल, नैनीताल, ऊधमसिंहनगर, पिथौरागढ़ और चम्पावत में भी मंगलवार को तूफान, बारिश और ओलावृष्टि की चेतावनी जारी की गयी थी। वहीं ADG अशोक कुमार, अपर पुलिस महानिदेशक, अपराध एवं कानून व्यवस्था, उत्तराखण्ड ने भी इस सम्बन्ध में नदी तटों, घाटों व झरनों के किनारे स्नान व फोटो खींचने वाले स्थानों पर प्रर्याप्त मात्रा में पुलिस बल तैनात करने तथा चार-धाम में आने वाले श्रद्धालुओं/पर्यटकों को इस सम्बन्ध में समय से सूचित करने के आदेश दिए हैं।