आपको बता दें कि आज भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी आज मिदनापुर में जिस सभा को संबोधित करने गए, वहां सभा के दौरान एक हादसा हो गया। पीएम के भाषण के दौरान पंडाल का एक हिस्सा गिर गया, जिससे करीब  22 लोग जख्मी हो गए। भाषण समाप्त करने के तुरंत बाद प्रधानमंत्री मिदनापुर के जिला अस्पताल में घायल समर्थकों का हाल जानने पहंचे। कुछ समर्थकों के गंभीर रूप से घायल होने की आशंका जताई जा रही है, लेकिन जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने अभी इस बात की पुष्टि नहीं की है। वहीं, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है। ममता ने ट्वीट कर लिखा- “हम मिदनापुर की रैली में सभी घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करते हैं। राज्य सरकार उन्हें हर तरह की चिकित्सा सेवा मुहैया कराएगी।”

रैली में भाषण से पहले पीएम मोदी भीड़ को दीवार से नीचे उतरने कि हिदायत देते हुए नजर आए, लेकिन जब लोगों ने PM की बात न मानी तो PM ने भाषण को कुछ देर के लिए रोक भी दिया था। अधिकारियों के अनुसार ये पंडाल लोगों को बारिश से आश्रय देने के लिए रैली स्थल के मुख्य प्रवेश द्वार के पास में ही बनाया गया था। रैली के दौरान पंडाल के अंदर भाजपा के कई उत्साही समर्थकों को भीड़ दिखाई दे रही थी। अधिकारियों ने बताया कि स्थानीय भाजपा इकाई के साथ-साथ मोदी के निजी कर्मचारी, उनके डॉक्टर और एसपीजी कर्मी घायल लोगों की मदद के लिए आगे आए थे।

रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर चुटकी ली। दरअसल, जिस मैदान में आज प्रधानमंत्री रैली को संबोधित कर रहे हैं, यहां जल्द ही ममता बनर्जी भी रैली करने वाली हैं। पीएम ने कहा कि मैं ममता दीदी का भी आभार व्यक्त करता हूं जो उन्होंने मेरा स्वागत करने के लिए झंडे लगाए और खुद भी मुझे लेने के लिए आईं।

अपनी सरकार की तारीफ करते हुए पीएम मोदी बोले- भारत एक बड़े विकास परिवर्तन के दौर से गुजर रहा है। हमारी सरकार ने किसानों के लिए बेहतर काम किया, जिसमें उच्च क्वालिटी वाले बीजों को बाजार में लाना, सबसे जरूरी उपज को बचाने के लिए गोदाम में रखना शामिल है। किसानों को सही MSP मिले इसके लिए किसान मांग करते रहे, आन्दोलन करते रहे, लेकिन फिर भी दिल्ली में बैठी सरकार ने किसानों की एक न सुनी। देश में हर कोई विकास लाने के लिए 100 प्रतिशत योगदान देने का प्रयास कर रहा है। पीएम मोदी ने किसानों को अन्नदाता बताते हुए कहा- किसानों को उनकी लागत का डेढ़ गुना मूल्य देने का हमारी सरकार ने ऐतिहासिक फैसला लिया है। पिछली सरकारों ने लंबे समय तक MSP के मामलों पर बातचीत की लेकिन कुछ नहीं हुआ। भाजपा की सरकार ने किसानों की बात सुनी और MSP बढ़ाने का निर्णय लिया।

आखिर में भाजपा के कार्यकर्ताओं के साहस पर पीएम मोदी ने कहा- “मैं भाजपा कार्यकर्ताओं के साहस और अनुशासन को सलाम करता हूं। मैं जीवनभर इस रैली को नहीं भूलूंगा।”