महावीर चक्र | Mahavir Chakra

1256

‘महावीर चक्र’ भारत का वीरता पुरस्कार है , जो ‘युद्ध के लिए’ दिया जाता है। यह सम्मान सैनिकों और असैनिकों को तब दिया जाता है, जब वे असाधारण वीरता का प्रमाण देते हैं। यह पुरस्कार मरने का बाद भी, किसी व्यक्ति के वीरता भरे काम के सम्मान में दिया जाता है। वरीयता के हिसाब से यह पुरस्कार ‘परमवीर चक्र’ के बाद आता है।

पदक

महावीर चक्र का पदक गोल होता है और निर्धारित मानक की चाँदी से बनाया जाता है। इस पदक के उपर एक उभरा हुआ 5 कोनों वाला तारा होता है, जिसके पांचों कोने गोलाकार किनारों को छूते हैं। इस पदक के बीच के हिस्से में राज्य का प्रतीक बना होता है। इस पदक के पीछे वाले हिस्से में हिंदी और अंग्रजी दोनों भाषाओं में ‘महावीर चक्र’ लिखा हुआ है तथा हिन्दी और अंग्रेजी शब्दों के बीच में दो कमल के फूल भी बने हुए हैं। इसके साथ एक फीता जुड़ा हुआ होता है, जिसका आधा रंग सफेद और आधा नारंगी होता है।

इतिहास

पदक की शुरुआत के बाद से अब तक बहादुरी और साहस के 218 से अधिक कार्य किए गये हैं। एक बार में दिए गए अधिकांश MCV पुरस्कार 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में दिए गए थे, जब 11 पुरस्कारों को ‘भारतीय वायु सेना’ को दिया गया था।