टी.बी. | T. B | Tuberculosis in Hindi

टी.बी. (Tuberculosis) एक संक्रामक बीमारी है जो माय्कोबेक्टेरियम ट्यूबरक्युलोसिस नामक बैक्टीरिया से होती है। इसे तपेदिक, क्षय रोग और यक्ष्मा के नाम से भी जाना जाता है। इसे मुख्यतः फेफड़ों को रोग माना जाता है पर यह शरीर के दूसरे हिस्सों में भी फैल सकता है जैसे कि मुंह,...

पित्ताशय की पथरी | Pittashay Ki Pathri | Gallbladder Stone in Hindi

हमारे पेट में दायीं तरफ लीवर के निचे एक छोटी थैली होती है। इस थैली को पित्ताशय (Gall bladder) कहा जाता है। इस थैली में लीवर में निर्मित होने वाले पित्त (Bile) का संग्रह होता है। पित्त में यदि कोलेस्ट्रॉल, बिलीरुबिन और पित्त लवणों की मात्रा अधिक हो जाए तो यह तत्व...

मोतियाबिंद | Motiyabind | Cataracts in Hindi

मोतियाबिंद आंखों में होने वाली बीमारी है। इस बीमारी में आंखों में मौजूद प्राक्रतिक लेंस पर सफेद रंग का धब्बा बन जाता है जिससे व्यक्ति को धुंधला या अस्पष्ट दिखाई देता है। यह बीमारी ज्यादातर बुजुर्गों में पायी जाती है। यह एक आंख से दूसरी आंख में भी फैल सकता है। मुख्य...

स्वाइन फ्लू | Swine Flu in Hindi

स्वाइन फ्लू या H1N1 इन्फ्लुएंजा श्वसन तंत्र से जुड़ी बीमारी है। यह बीमारी आमतौर पर इन्फ्लुएंजा वायरस के इंफ्लुएंजा A (H1N1) प्रकार या स्ट्रेन के कारण होती है। यह वायरस सीधे श्वास नाली को प्रभावित करता है। इसके शुरूआती लक्षण आम फ्लू की तरह ही होते हैं। इन्फ्लुएंजा वायरस...

एसिडिटी | Acidity in Hindi

भोजन को पचाने के लिए हमारे पेट में गैस्ट्रिक एसिड स्रावित होता है। यह एसिड भोजन को पचाने में मदद करता है। यह एसिड अगर सामान्य से अधिक मात्रा में स्रावित या निर्मित होने लगे तो सीने में जलन होने लगती है जिसे एसिडिटी कहते हैं। चिकित्सकीय भाषा में एसिडिटी को...

टाइफाइड | Typhoid in Hindi

टाइफाइड एक संक्रामक रोग है। इसको मोतीझरा और मियादी बुखार (आंत्र ज्वर) भी कहा जाता है। यह साल्मोनेला टाइफी (Salmonella typhi) नामक बैक्टीरिया के संक्रमण से होता है। इस बीमारी में तेज बुखार आता है, जो कम ज्यादा होता रहता है और कई दिनों तक बना रहता है। तेज बुखार के साथ...

बवासीर | Bavasir | Piles in Hindi

बवासीर एक असाधारण रोग है। इसे पाइल्स, हेमोरहोयड्स और मूलव्याधि के नाम से भी जाना जाता है। इस रोग में आंत के अंतिम भाग (गुदा) के भीतरी भाग में रक्त की धमनियों और शिराओं में सूजन आ जाती है। मल त्याग करने पर मल से रगड़ खाने की वजह से रक्त की इन धमनियों में दरार पड़ जाती है...

चिकनगुनिया | Chikungunya in Hindi

चिकनगुनिया एक प्रकार का वायरल बुखार है, जो संक्रमित मादा एडीज एइजिप्टी मच्छर के काटने से होता है। यह बुखार शरीर के जोड़ों को बुरी तरह से प्रभावित कर शरीर को काफी नुकसान पहुंचाता है। यह एक जानलेवा रोग है अगर इसका सही उपचार ना किया जाए तो जान भी जा सकती है। मुख्य लक्षण...

मधुमेह (शुगर) | Madhumeh | Diabetes in Hindi

मधुमेह एक गंभीर रोग है। इसे आम बोलचाल की भाषा में शुगर की बीमारी भी कहतें हैं। इस रोग से पीड़ित व्यक्ति के रक्त में शर्करा (शुगर) का स्तर सामान्य से ज्यादा हो जाता है। इसको इस प्रकार से समझा जा सकता है; हम जो खाना खाते हैं, वह हमारे शरीर में ग्लूकोज में परिवर्तित हो...

गठिया | Gathiya | Arthritis in Hindi

यूरिक एसिड के जोड़ों में जमा होने की वजह से जोड़ों में आने वाली सूजन को गठिया कहते हैं। इस रोग में जोड़ों में गाठें बन जाती हैं और शूल चुभने जैसी पीड़ा होती है। गठिया आर्थराइटिस का ही एक प्रकार है। मुख्य लक्षण जोड़ों में सूजन आना। हाथ और पांव में गाठें बनना। जोड़ों में दर्द...

खसरा | Khasara | Measles in Hindi

खसरा एक संक्रामक अथवा छूत का रोग है जो एक प्रकार के वायरस से होता है। इस रोग को रुबोला (Rubeola) के नाम से भी जाना जाता है। खसरा होने पर रोगों से लड़ने की क्षमता (इम्युनिटी) कम हो जाती है। यह रोग सबसे ज्यादा बच्चों में फैलता है। इसलिए किसी बच्चे को यह रोग हो जाए तो...

डेंगू | Dengue in Hindi

डेंगू एक वायरल रोग है जो संक्रमित मादा एडीज एजिप्टी मच्छर के काटने से फैलता है। यह मच्छर ज्यादातर दिन में काटते हैं। डेंगू के लक्षण मच्छर के काटने के 5 से 15 दिनों के बाद दिखाई देने लगते हैं। यह एक जानलेवा रोग है इसलिए अगर आपको डेंगू का कोई भी लक्षण दिखाई दे तो तुरंत...

पीलिया | Piliya | Jaundice in Hindi

व्यक्ति के शरीर में किसी कारणवश या एक विशेष प्रकार के वायरस के संक्रमण से रक्त में बिलीरुबिन की मात्रा बढ़ जाए और शारीर का रंग पीला पड़ जाए तो उसे पीलिया रोग कहते हैं। इस रोग में बिलीरुबिन का खून से लीवर और लीवर से आतों की ओर होने वाला प्रवाह प्रभावित होता है, जिसकी वजह...

मलेरिया | Maleriya in Hindi

मलेरिया एक तरह का बुखार है जो संक्रमित मादा ऐनोफ्लीज मच्छर के काटने से होता है। यह मच्छर गंदे पानी में रहते हैं और आमतौर पर दिन ढलने के बाद ही काटते हैं। मुख्य लक्षण बुखार होना और एक दिन छोड़कर बहुत तेज बुखार आना। जी मिचलाना, सिरदर्द होना, मांसपेशियों में दर्द होना,...

डायरिया | Diarrhea in Hindi

पतला दस्त आना या बिना मरोड के मल का बार-बार आना दस्त, अतिसार या डायरिया कहलाता है। यह एक आम रोग है जो बच्चों, जवानों और बूढों किसी को भी हो सकता है। एस रोग में शारीर में पानी और खनिज लवण की कमी हो जाती है, जिससे व्यक्ति की जान भी जा सकती है। मुख्य लक्षण दिन में तीन से...

अपच | Apach | Dyspepsia in Hindi

पाचन तंत्र के कमजोर होने या अन्य किसी प्रकार की गड़बड़ी के कारण भोजन ना पचने को अजीर्ण या अपच कहते हैं। अपच कोई बहुत बड़ा रोग नहीं है परन्तु इसके कारण कई गंभीर रोग हो सकते हैं। मुख्य लक्षण पेट में या पेट के ऊपरी हिस्से में जलन रहना। खट्टी डकारें आना, जी मिचलाना और भूख कम...

कब्ज | Kabj | Constipation in Hindi

कब्ज एक आम रोग है, जो किसी भी उम्र के व्यक्ति को हो सकता है। इस रोग में पेट ठीक से साफ नही होता और मल त्याग करने में बहुत परेशानी होती है। इस रोग से पीड़ित व्यक्ति जो भी खाता है वो ठीक से पच नहीं पाता और आतों में शुष्क मल के रूप में इक्कठा हो जाता है। मुख्य लक्षण ठीक...

एनीमिया | Anemia in Hindi

किसी व्यक्ति के खून में अगर आयरन की कमी हो जाए तो उसका हीमोग्लोबिन भी कम हो जाता है। खून में आयरन और हीमोग्लोबिन की इस कमी को एनीमिया रोग कहा जाता है। यह रोग पुरषों की अपेक्षा महिलाओं में अधिक पाया जाता है। मुख्य लक्षण आखें, नाखून और त्वचा का पीला होना। कमजोरी और...

वायरल बुखार | Viral Fever in Hindi

वायरल बुखार एक तरह का मौसमी बुखार होता है, जो वायरस के संक्रमण से होता है। वायरल बुखार का वायरस गले में सुप्तावस्था में रहता है। ठंडा पानी पीने या ठंडे वातावरण के संपर्क में आने से यह वायरस सक्रिय हो जाता है और हमारे प्रतिरक्षा तंत्र को प्रभावित कर हमें बीमार कर देता...

अस्थमा/दमा | Asthma in Hindi

अस्थमा या दमा श्वसन तंत्र से सम्बंधित रोग है। इस रोग में श्वसन मार्ग मे सूजन आ जाती है, जिसकी वजह से श्वसन मार्ग संकुचित हो जाता है और साँस लेना मुश्किल हो जाता है। यह रोग किसी भी उम्र में हो सकता है। मुख्य लक्षण सूखी खांसी होना। दौरा पडने की सम्भावना रहती है। रोगी का...