गुलाब जामुन कैसे बनाते हैं ( Gulaab Jaamun kese banate hai )- 

गुलाब जामुन भारत की सबसे स्वादिष्ट मिठाई मानी जाती है । गुलाब जामुन भारत के हर घर में किसी  भी त्यौहार या उत्सल में बनाऐ और खाये जाते हैं। यदि आप भारत में रहते हो तो आपने भी कभी ना कभी तो गुलाब जामुन खाऐ ही होंगे । हमारे भारत में यदि कोई त्यौहार या शादी या पार्टी हो‌ और उसमें गुलाब जामुन ना हो तो ऐसा तो ही नहीं सकता क्योंकि हर पार्टी, शादी और त्यौहारों की रौनक गुलाब जामुन से ही आती है । ‌बाजार में बहुत प्रकार के गुलाब जामुन खाने को मिलते हैं पर घर के बने गुलाब जामुन की तो बात ही अलग होती है । गुलाब जामुन बनाने का भी सबका एक अलग तरीका होता है किसी को बहुत ज्यादा मीठे गुलाब जामुन पसंद होते हैं तो किसी को कम मीठे गुलाब जामुन पसंद होते हैं । बाजार में जो गुलाब जामुन मिलते हैं वो थोड़ा कम ही मीठे होते हैं । आज के समय में तो हर एक चीज में मिलावट होने लगी है इसलिए ये ज्यादा बेहतर है कि लोग बाहर का खाने के वजाय घर में ही उस डिश‌ को बनाकर खाएं। इसलिए आज हम आपके लिए गुलाब जामुन की एक आसान सी रेसिपी लेकर आए हैं जो आप लोगों को जरूर पसंद आएगी तो आइए जानते हैं कि घर पर ही स्पंजी और स्वादिष्ट गुलाब जामुन कैसे बनाते हैं –

Gulaab jaamun kaise banate hai

गुलाब जामुन बनाने की सामग्री – 

100g खोया 

1 Tablespoon सूजी या मैदा (पसंद अनुसार ले सकते हैं) 

1/4 Teaspoon बेकिंग सोडा 

2 कप शक्कर 

2 कप पानी 

2 Tablespoon दूध 

4 इलायची या इलायची पाउडर 

घी तलने के लिए 

गुलाब जामुन बनाने की विधि – 

* सबसे पहले एक बाउल लें और उसमें खोया को लेकर अच्छी तरह से मैश करें । खोया को अच्छे से मैश करने के बाद इसमें बेकिंग सोडा और मैदा या सूजी मिला लें और अच्छे से मिलाते हुए एक मुलायम डो तैयार कर लें ‌ । और 2 से 3 घंटे के लिए इस डो को ढककर रख दें । 

* 2 -3 घंटे के बाद डो को फिर से दोनों हाथों से मिलाएं । अब इस डो की छोटी छोटी बाॅल्स बना लें । यदि आप चाहें तो इन बाॅल्स को अण्डा आकार भी दे सकते हो । 

* अब एक कड़ाही लें और उसे गैस पर रखकर गैस चालू करें । अब इस कड़ाई में घी डालें और घी को गर्म होने दें । जब घी गर्म हो जाएं तो गैस को मध्यम आंच पर कर दें और इसमें बनाई हुई छोटी छोटी बाॅल्स डालें । और ध्यान रखें एक बार में कम ही बाॅल्स डालें और इन बाॅल्स को मध्यम आंच पर सुनहरा होने तक तलें । 

* जब बाॅल्स सुनहरे रंग की हो जाएं तो उन्हें किचन पेपर पर निकाल लें । और इसी प्रकार बाकी की बॉल्स को तल लें ।

* इसके बाद अब हम बनाते हैं चाशनी । इसके लिए हमें सबसे पहले एक बर्तन लेना हैं और उसमें शक्कर और पानी डालकर धीमी आंच पर पकने के लिए रख देना है । जब चीनी अच्छी तरह से घुल जाए तो गैस की आंच को बढ़ा दें और चाशनी को पकने दें । चाशनी को आपको तब तक पकाना है जब तक कि चाशनी हल्की गाढ़ी ना हो जाए । 

* जब चाशनी हल्की गाढ़ी हो जाएं तो गैस बंद कर दें और चाशनी को ठंडा हल्का ठंडा होने दें । जब चाशनी ठंडी हो जाएं तो चाशनी को एक कपड़े या चलनी की सहायता से छान लें । 

* चाशनी को छानने के बाद इसमें इलायची या इलायची पाउडर डालकर एक बार फिर से गर्म करें । 

* जब चाशनी गर्म हो जाएं तो चाशनी को गैस से उतार लें और चाशनी में हमारे द्वारा बनाई गई बॉल्स को डाल दें और आधे घंटे के लिए गुलाब जामुन को भीगने दें । आधे घंटे के बाद आपके गुलाब जामुन तैयार है । 

गुलाब जामुन बनाते समय ध्यान रखने योग्य बातें –

* गुलाब जामुन की बॉल्स बनाते समय यदि आप चाहें तो इन बॉल्स के बीच में किशमिश या काजू डाल सकते हैं । 

*गुलाब जामुन की बॉल्स बनाते समय यह ध्यान रखें कि बॉल्स में कहीं भी दरार ना आए क्योंकि अगर बॉल्स में थोड़ी सी भी दरार होगी तो तलते समय बॉल्स कढ़ाई में ही फूट सकती है । 

* गुलाब जामुन के डो की गोलियां बनाने से पहले डो‌ को अच्छी तरह से मसल‌ लें क्योंकि आप डो को जितना अच्छे से मसलोगे आपके गुलाब जामुन उतने ही मुलायम और स्वादिष्ट बनेंगे । 

* गुलाब जामुन की चाशनी बनाते समय चाशनी को थोड़ी थोड़ी देर में चलाते रहे जिससे कि शक्कर बर्तन के तले में चिपके नहीं ।