लौकी | Lauki ke Fayde | Benefits of Gourd in Hindi

313
हिंदी नाम अंग्रेजी नाम (English Name) वैज्ञानिक नाम (Scientific Name)
लौकी गौर्द (Gourd) लेजीनेरिया सिसेरेरिया (Lagenaria siceraria)

 

लौकी का वैज्ञानिक नाम लेजीनेरिया सिसेरेरिया (Lagenaria siceraria) है। लौकी का सेवन करने से पीलिया, जिगर (Liver), मोटापे, गुर्दे से जुड़ी समस्या, मधुमेह (Diabetes), कब्ज़ (Piles) और रक्तवसा (Cholesterol) आदि बीमारियों में राहत मिलती है।

लौकी के फायदे

  1. लौकी के रस को सर में लगाने से सर की गर्मी शान्त होती है।
  2. लौकी के सेवन से रक्त साफ़ होता है।
  3. लौकी के रस को फोड़े फुन्सियों पर लगाने से शीघ्र राहत मिलती है।
  4. पीलिया और जिगर (Liver) से जुड़ी बीमारी में लौकी का सेवन करना लाभदायक होता है।
  5. नित्य लौकी का सेवन करने से मोटापे की समस्या से राहत मिलती है।
  6. उबली हुई लौकी के सेवन से रक्त की अम्लता कम होती है।
  7. गुर्दे से जुड़ी समस्या में लौकी का सेवन करना लाभदायक होता है।
  8. ज्यादा प्यास लगने पर लौकी का सेवन करना लाभप्रद है।
  9. लौकी का तेल बालों में लगाने से रुसी और बालों का झड़ना कम होता है और बाल मज़बूत होते हैं।
  10. सुबह खाली पेट लौकी के रस का सेवन करने से मधुमेह (Diabetes) की बीमारी में राहत मिलती है।
  11. लौकी के रस का सेवन करना गैस और कब्ज़ (Piles) की बीमारी में लाभप्रद होता है।
  12. लौकी से शरीर में रक्तवसा (Cholesterol) नियंत्रित रहता है।

लौकी के नुकसान

  1. कड़वे लौकी के रस का सेवन करने से गर्भवती महिलायों को गर्भपात की समस्या हो सकती है।
  2. लौकी के रस को किसी और पदार्थ के साथ सेवन करना हानिकारक हो सकता है।
  3. लौकी के कड़वे रस का सेवन करने से पेचिस, गैस और उबकाई (Nausea) जैसी समस्या हो सकती हैं।
  4. स्तनपान करा रही महिलायों का कड़वे लौकी के रस का सेवन करना हानिकारक हो सकता है।