Email क्या है?

Email का इस्तेमाल आज कल सभी लोग करते हैं और जानते भी हैं । कुछ लोग Email का इस्तेमाल रोजमर्रा की जिंदगी में हर दिन अपने दोस्तों और Family members को Message भेजने के लिए करते हैं । और अधिकतर लोग तो पूरे दिन ही अपने Email Account को देखते रहते हैं। Email का इस्तेमाल ज्यादा Official Work के लिए ही किया जाता है, तथा बहुत सी Websites को login करने के लिए भी Email का इस्तेमाल किया जाता है । ऐसे ही बहुत से काम होते हैं जहां Email address का इस्तेमाल किया जाता है । Email आज के समय में Communication  या बातचीत करने का एक अच्छा विकल्प है । पर इसका इस्तेमाल ज्यादातर लोग Professionally Work में ही करते हैं । आज हम जानेंगे कि Email आखिर है क्या ?

Email आखिर है क्या ?

Email का full form है Electronic mail. इसको लोग E-mail , Email , और Electronic mail के नाम से भी जानते हैं । यह एक प्रकार का Digital Massage  है जिसका इस्तेमाल एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति के साथ बातचीत करने के लिए करते हैं । Email में का इस्तेमाल text, file, image या attachment भेजने के लिए किया जाता है । पेन और पेपर में किसी को Message भेजने की जगह Email पर Keyboard से type करके Message भेजा जा सकता है । Email पर काम करने के लिए आपका email account होना आवश्यक है । और Email account बनाना बहुत आसान है । नीचे आपको उसकी प्रक्रिया बताई जाएगी ।

Email का इतिहास –

Email की शुरुआत सबसे पहले 1971 में Ray Tomlinson के द्वारा सबसे पहले email भेजकर की गई थी । Ray Tomlinson ने खुदको ही पहला test email भेजा था । जिसमें उन्होंने इस प्रकार ” QWERTYUIOP ” के text लिखकर भेजे थे । और इस Massage को ही भेजने के बाद भी उन्होंने इस Email massage को ARPANET के माध्यम से Transmit भी किया था । इसलिए Ray Tomlinson को Email का जन्मदाता भी कहा जाता है ।

Email भेजते कैसे हैं –

1. सबसे पहला option होता है To field इस जगह पर जिसको आपको email करना है उसका Email address लिखिए ।

2. दूसरा option होता है From Filed जहां आपको अपना Email address लिखना होता है ।

3. अगर आप किसी Mail का reply दे रहे हो तो उसमें अपने आप ही To और From आ जाता है । और अगर आप नया Message कर रहे हो तो आपके साथी जानकारी भरनी पड़ेगी ।

4. तीसरा है Subject जहां आपको Content के विषय में कुछ लिखना होता है जो आपके Mail के बारे में बताते । यह Subject ही Recipient को यह बताया कि आपने किस विषय के बारे में उन्हें Email किया है और वो Subject देखकर ही समझ जाएगा ।

5. Field होता है CC (Carbon copy) यानि जो भी user field allowed करता है,  उन Recepient के बारे में बताता है जिन्हें वो Direct email तो नहीं भेजता है पर जब भी email भेजा जाता है वह copy उन लोगों तक पहुंच जाती है । पर ये Field Optional होता है ।

6. आखिर में होता है Message Body में आप अपना email message type करते हो और इसके Bottom में आपकी Signature स्थित होता है ।

Email Address बनाने के भी कुछ नियम होते हैं –

1. Email Address में Username होना आवश्यक है साथ ही @  ये sign होना भी आवश्यक होता है और उसके बाद Domain name होना चाहिए ।

2. आपके Email address में 64 Character होना आवश्यक है ।और कोई भी Domain name 254 Character से ज्यादा नहीं होना चाहिए ।

Email Address में Space और Special Character कभी कभी ही काम करते हैं पर इनके पहले Forward Slash होना आवश्यक होता है । इन character के Velid होने के बाद भी कुछ ही Email Provider इन Character को Allowed नहीं करते हैं ।

Gmail I’d कैसे बनाते हैं

  • सबसे पहले गूगल क्रोम को ओपन करेंगे।
  • Search में create new gmail account type  करके ok करेंगे।
Email Id Kaise Banaye
  • जानकारी में आप अपना नाम, सरनेम, (नंबर, special Alphabet  का मिश्रण) और अपना यूजरनेम जो यूनिक हो वह टाइप करेंगे।
Email Id Kaise Banaye
  • आप अपना मोबाइल नंबर, जीमेल आईडी के बैकअप के लिए एक जीमेल आईडी, Date of birth, gender भरेंगे और  next पर क्लिक करेंगे।
Email Id Kaise Banaye
  • आपकी gmail ID बनकर तैयार है ।