ईमेल(E-mail) क्या है?

ara (1).png

Email किसी भी electronic device द्वारा किसी network(internet) के जरिए संदेश भेजने-प्राप्त करने का एक साधन हैElectronic Mail को  संक्षिप्त  में email कहा जाता है| प्रायः यह professional communication के लिए इस्तेमाल किया जाता हैं, एवं कोई भी पत्र जो electronic माध्यम से भेजा गया हो, उसे email कहा जाता हैं| 

पत्र भेजने की विधि से तो आप परिचित ही होंगे, इसमें पत्र डाक घर  में डाला जाता है और डाक विभाग उस पत्र को दिए हुए पते तक पंहुचा देता है| लेकिन इसमें टिकट का खर्च, समय की बर्बादी, और पत्र खोने का डर लगा रहता हैं| E-mail में न हमे टिकट की खर्च ना ही डाक घर(post office) जाने कि जरुरत, और ना ही पत्र(letter) खोने का डर होता है| आप कुछ ही समय में दुनिया में कही भी email भेज सकते हैं, और अगर आपको कोई email कर रहा हैं तो आप उसे कुछ ही समय में देख सकते हैं, एवं email की सेवाएँ भी बिलकुल मुफ्त होती हैं|

E-mail की आवश्यकता

आजकल लगभग हर जगह e-mail address माँगा जाता हैं| जैसे अगर आप किसी बैंक में खाता खोलना चाहते हैं, mobile का connection लेना चाहते हैं , रेल या flight की टिकट लेना चाहते है, स्कूल या विद्यालय में नामांकन (admission) लेना चाहते हैं, या सरकारी एवं निजी दोस्तों और रिश्तेदारों से सम्पर्क बनाए रखना चाहते हैं, इन सभी जगहों पर आपको e-mail की आवश्यकता होती है| 

Email को हमे Computer या SmartPhone पर लिखना पड़ता है| E-mail भी एक साधारण पत्र की तरह ही एक पत्र होता है। जैसे हम साधारण पत्र लिखते समय उसमें प्राप्त करने वाले का नाम (Receiver), पता (Address), संदेश (Message) और नीचे भेजने (Sender) वाले का नाम लिखते हैं| फिर उसे भेजने के लिए पास के डाक घर(Post Office) में जाकर उसे Post Box में डाल देते हैं, और पत्र प्राप्त करने वाले के पास कुछ दिनों में पत्र चला जाता है। ठीक उसी प्रकार Email  में भी प्राप्त करने वाले का नाम (Receiver), पता (E-mail ID), और संदेश (Body) लिखना पड़ता है| Email में भेजने वाले का नाम अलग से नही लिखना पड़ता है. इसमें भेजने वाले का नाम स्वतः ही संदेश पाने वाले के पास चला जाता है| सभी आवश्यक जानकारी लिखने के बाद Send पर Click किया जाता है, और email कुछ ही second मे भेजने वाले के पास चला जाता हैं| 

साधारण पत्र भेजने वाली प्रक्रिया की तुलना में email बहुत अधिक तेजी से काम करता हैं, एवं और भी बहुत सारी चीज हैं, जो e-mail को साधारण पत्र से उपयोगी बनाती हैं। आप internet के द्वारा कोई भी संदेश या पत्र सेकंड  मे भेज सकते है, जबकि साधारण तरीके से जैसे डाक घर(post office) से भेजने मे काफी दिन लग जाते हैं| अतः email कम समय मे पत्र भेजने और प्राप्त करने का सबसे बेहतर उपाय है।

Email का इतिहास

जैसा कि ऊपर उल्लेख किया गया है कि,email, electronic साधन का प्रयोग करने वाले लोगों के बीच messages (mail) का आदान-प्रदान करने की एक विधि है। 1960 के दशक तक इसका सीमित प्रयोग दर्ज किया, लेकिन उस समय उपयोगकर्ता केवल एक ही computer के उपयोगकर्ता को भेज  सकते थे, और कुछ शुरुआती e-mail system में तत्काल message के समय sender  और reciever दोनों को एक साथ online होना आवश्यक था। Ray Tomlinson को email के अविष्कारक के रूप में श्रेय दिया जाता है! 

1971 में,  उन्होंने  ARPANET के विभिन्न hosts पर उपयोगकर्ताओ के बीच mail भेजने की पहली सक्षम प्रणाली विकसित की, जिसमें ‘@’ का इस्तेमाल किया गया| 1970  के दशक के मध्य तक, यह email के रूप में मान्यता प्राप्त कर चुका था। Email, computer network पर कार्य करता है| आज कई mail system एक store-and-forward model पर आधारित हैं। email severs संदेशों को स्वीकार, अग्रषित, वितरित, और संग्रहीत करते हैं, जिसमे न तो उपयोगकर्ता और ना ही उनके computer को एक साथ online होना आवश्यक है;  उन्हें सन्देश भेजने या प्राप्त करने या download करने के लिए आमतौर पर  mail server या web mail, interface से जुड़ने की जरूरत होती है। 

Gmail  की मदद से Email ID कैसे बनाऐ

Gmail गूगल द्वारा बनायी गयी email की फ्री सर्विस है, जिसे इस्तेमाल करने के लिए आपको email id बनानी होती है| जीमेल id बनाने के लिए नीचे दिए गए बिन्दुओं का पालन करें:

1. सबसे पहले आपको अपने computer या laptop के browser में जाना है जहा पर आप internet चलाते हैं| जिसके बाद ऊपर यूआरएल (URL) में gmail.com लिखें और enter दबा कर website को खोलें|

2 जैसे ही आप gmail.com website खोलते  हैं, तो आपको next के नीचे Create Account (खाता बनाएं) आयेगा उसपर click करना हैं|  

3. अब आपको अपनी जानकारी भरनी होगी जैसे, name, address etc., जैसे ही आप create account पर click करते हैं, तो आपके सामने एक form खुलेगा, जिसमे आपको अपना नाम, password डालना है, उसके बाद email id  चुनना है| लेकिन ध्यान रखे कि emai-id एकदम अलग होना चाहिए वर्ना ये आपको एक message दिखायेगा the username is taken try again. इसलिए आपको email-id unique डालना है यानि अलग उसके बाद password इत्यादि| नीचे सारी जानकारी बतायी गयी है की कैसे आपको form भरना है-

Name:  namebox के अंदर आपको अपना नाम डालना है प्रथम box में first name और दूसरे box मे surname.

choose your username : यहाँ पर आपको अपना  username  डालना है| ये username ही आपका email बनेगा, याद रखे user name Unique होना चाहिए जिस तरह आपके mobile का number unique होता हैं उसी तरह आपका username भी unique होना चाहिए| उदाहरण के लिए  यदि  आपका नाम Riya है और pandey आपका surname है तो आपको username में riyapandey123 ऐसा कुछ डालना होगा,  या फिर riyapandey1998  इत्यादि भी डाल सकते  हैं| क्योंकि यही आपका email id  होगा जैसे आपने riyapandey123 username  डाला तो आपका email-id riyapandey123gmail.com होगा, बस आपके username के बाद @gmail.com लग जायेगा

Create a password : यहाँ पर आपको अपना password डालना है, ये बहुत ही महत्वपूर्ण चीज़ होती है| इस password की मदद से ही आप email को  खोलते  है और पढ़ सकते है या फिर भेज सकते है| Password मे आप कुछ भी रख सकते हैं लेकिन हां password  हमेशा याद रहना चाहिए, एवं सुरक्षित रखना चाहिए|

Confirm your password: इस बॉक्स के अन्दर आपको दोबारा वही password डालना है जो ऊपर ’create a password’ में लिखा था, उसके बाद next पे click करना है

Birthday: यहाँ पर आपको अपना जन्म तिथि(date of birth) डालना है|

Gender : इसमे आपको  male पर click करना है अगर आप एक लड़का है, अगर आप एक लड़की है तो  female पे click करें, और अगर आप किसी और category में आते है, तब other को चुने|

Mobile phone : इस box के अन्दर आपको अपना phone number डालना है जो phone number आप प्रयोग करते है| ध्यान रहे सही phone number डालना है क्योंकि अगर बाद में आप अपना email id या password भूल जाते है, तो आप phone number की मदद से आसानी से  password बदल सकते है।

Your current email address : इस बॉक्स के अन्दर आपको अपना पुराना email id डालना है अगर आप के पास है, इससे, अगर आप बाद  में अपना पासवर्ड भूल जाते हैं, तो आप इस email-id के मदद से recover कर सकते है| अगर आपके पास नहीं है तो आप इसे छोड़ (skip) भी सकते हैं|

Location : इस बॉक्स के अन्दर आपको अपना देश(country) का नाम चुनना  है|

जितनी भी जानकारी उपर बताई गयी है उन्हे अच्छे से भर ले फिर एक बार दोबारा check कर लें, क्योंकि ये सब जानकारी बहुत जरूरी है| ये सब जानकारी भरने के बाद आपको next पर click करना है|

4 . अब AGREE पर click करे
जैसे ही आप  agree  पे click करते है तो एक अन्य पेज खुलेगा होगा जिसमे  Privacy and Terms का सन्देश दिखेगा तो आपको नीचे scroll करके  AGREE  पर click करना है।

5. अब आपका email-id लगभग  बन चुका है, अब welcome का पेज दिखेगा,  उसके बाद continue to gmail पर click करें| आपका gmail I’d बन गया है।

जैसे ही continue to gmail पर click  करते हैं, उसके बाद आपके सामने आपका gmail account दिखाई देगा जहाँ से आप email भेज सकते हैं एवं प्राप्त  कर सकते हैं।