धार्मिक संघर्ष | Dharmik Sangharsh | Religious Conflict

1083

जब दो धर्मों या दो धर्मों को मानने वाले लोगों के बीच में कुछ संघर्ष होने लगता है, तो वह धार्मिक संघर्ष कहलाता है। आज के समय में यह संघर्ष खास-तौर पर हिन्दू धर्म और मुस्लिम धर्म के लोगों के बीच में होते हैं। आज के समय में धार्मिक संघर्ष सबसे बड़े मुद्दों में से एक है। कभी-कभी हिंसा, युद्ध, संघर्ष इत्यादि धार्मिक कट्टरतावाद के कारण उत्पन्न होता हैं।

कारण

  • अलग-अलग धर्मों के लोगों की सोच अलग-अलग होतीहै, कई बार किसी वजह से भी हिंसा भड़क उठती है।
  • अनपढ़ या अशिक्षित लोग आसानी से दूसरे लोगों की बातों में आ जाते हैं, जो धर्म के नाम पर हिंसा फैलाना चाहते हैं

बुरा प्रभाव

कभी-कभी 2 समुदायों के बीच संघर्ष, हिंसा और अपराध की वजह धर्म होता है और यह देश की प्रगति को प्रभावित करता है।

हल या समाधान

धार्मिक हिंसा का समाधान केवल लोगों के हाथों में है। लोगों को उचित ज्ञान हासिल करना चाहिए और बेहतर समझ विकसित करनी चाहिए। लोगों को समझना होगा किक्या सही और क्या गलत है और हमें इस बारे में जागरूकता पैदा करनी चाहिए। इसमें मीडिया हमारी बहुत मदद कर सकती है।