साबुत धनिया | Sabut Dhaniya ke Fayde | Benefits of Coriander in Hindi

452

धनिया का वैज्ञानिक नाम कोरियेंड्रम सटिवुम (Coriandrum sativum) है। धनिया में 11 घटक, 6 प्रकार के एसिड, खनिज और विटामिन प्रचूर मात्रा में पाए जाते हैं। थायराइड, एलर्जी, गठिया, मधुमेह, कोलेस्ट्राॅल आदि बीमारियों में धनिया का उपयोग करना बहुत ही लाभकारी है।

धनिया के फायदे

  1. धनिया का बीज पानी में उबालकर, उबले हुए धनिया पानी का सेवन करने से वजन कम होता है।
  2. धनिया के बीज का सेवन करने से थायराइड (Thyroid) की बीमारी में आराम मिलता है।
  3. पाचन संबंधित समस्या में भी धनिया का सेवन करने से लाभ प्राप्त होता है।
  4. एक चम्मच शहद में पिसा धनिया मिलाकर त्वचा पर लगाने से एलर्जी से छुटकारा मिलता है।
  5. धनिया बीज के तेल को नारियल या जैतून के तेल में मिलाकर, जोड़ो पर मालिश करने से गठिया रोग में लाभ मिलता है।
  6. अधिक मासिक धर्म (Menstrual Cycle) के प्रवाह से पीड़ित महिलाओं को धनिया बीज के पानी का सेवन करने से शीघ्र लाभ मिलता है।
  7. कुटे हुए धनिया के बीज को रात भर पानी में भिगोकर, सुबह उस पानी का सेवन करने से मधुमेह (Diabetes) रोग में आराम मिलता है।
  8. धनिया बीज को पानी में उबाल लें। इस उबले हुए पानी से आंखें धोने से आंखों में खुजली, लालिमा और सूजन की समस्या दूर होती है।
  9. धनिया की पत्ती का रस बालों में लगाने से बाल झड़ने की समस्या दूर होती है।
  10. धनिया कोलेस्ट्राॅल (Cholesterol) को कम करने के साथ-साथ उच्च रक्तचाप (High Blood Pressure) को कम करने में भी मदद करता है।

धनिया के नुकसान

  1. धनिया का अधिक मात्रा में सेवन करने से त्वचा पर सनबर्न (Sunburn) एवं एलर्जी की समस्या हो सकती है।
  2. गर्भवती महिलाओं को धनिया का अधिक सेवन नहीं करना चाहिए।