चीन को सबक सिखाने के लिए भारत की जनता को अब उसके खिलाफ खड़ा होना होगा और चीनी उत्पाद (समानों) का बहिष्कार करना होगा। अगर हम लोग चीन में निर्मित सामान को खरीदना बंद कर दें और स्वदेशी सामान अपनायें तो चीन की अर्थव्यवस्था अपने आप ही हिल जायेगी। जब हम चीन में निर्मित सामान का बहिष्कार करेंगे तो चीन की अर्थव्यवस्था को बहुत बड़ा नुकसान होगा। ऐसा इसलिए जरूरी है क्योंकि चीन पाकिस्तान को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से मदद पहुंचा रहा है।

‘चीनी उत्पाद का बहिष्कार’ के विषय पर आधारित स्लोगन निम्नलिखित हैं।

स्लोगन.1

स्वदेशी उत्पादक आगे आओ, भारत को आत्मनिर्भर बनाओ।

स्लोगन.2

चीनी सामान का पर्याय निकालो, स्वदेशी उत्पादों को बढ़ावा दो।

स्लोगन.3

मेड इन चाइना को है सबक है सिखाना। स्वदेशी चीज़ों को होगा अपनाना।

स्लोगन.4

ग्राहकों अब भी जाग जाओ, सही–गलत का तर्क लगाओ।

स्लोगन.5

मेरा है यही सपना, आत्मनिर्भर बनें देश अपना।

स्लोगन.6

देश ही में बने ऐसे उत्पाद, कि मेड इन चाइना से भी अच्छी रहे निर्यात।

स्लोगन.7

स्वदेशी चीजों को खरीदिये, देश को सुदृढ़ कीजिये।

स्लोगन.8

भगवान न करे की आगे भी कभी ऐसी स्थिति आये, की हमसे मुनाफा कमाकर कोई हम पर ही उंगली उठाये।

स्लोगन.9

देश के नागरिक दे रहे हैं मुहँतोड़ जवाब, ग्राहक शक्ति क्या होती है यह जान जायेगा मेड इन चाइना आज।