सीबीआई ऑफिसर कैसे बने –

आप यह तो जानते होंगे कि अगर किसी राज्य में बड़ी घटना घटती है और उस राज्य की पुलिस उस केस को नहीं संभाल सकती हैं तो उस केस को CBI को जांच के लिए सौंप दिया जाता है । CBI को केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो भी कहा है यह भारत सरकार की एक ऐसी जांच एजेंसी होती है जो सीधे सरकार के प्रशिक्षण विभाग और कार्मिक विभाग के अंदर जाती है ।  CBI के द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर होने वाले सभी भ्रष्टाचार, घोटालों, हत्याओं, अपराधो  जैसे बड़े बड़े मामलों की अपने स्तर पर जांच करता है ।  भारत सरकार ने सरकारी कर्मचारियों के द्वारा रिश्वत लेने और भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए इस एजेंसी की शुरुआत की आवश्यकता को देखते हुए 1946 में दिल्ली विशेष पुलिस की स्थापना हुई थी । ये एक ऐसी जांच एजेंसी है जो भारत की सुरक्षा के जुड़े अलग-अलग मामलों को सुरझाती है ।‌  1 अप्रैल 1963 में इस एजेंसी का नाम SPE से बदलकर CBI  कर दिया गया था । CBI के निर्देशक ऋषि कुमार शुक्ला है । CBI का कार्यक्षेत्र सीमित नहीं होता है , उनकी जहां भी आवश्यकता होती है वहां अन्य देशों की सुरक्षा एजेंसियों की सहायता हेतु पहुंच जाते हैं । इसमें राज्य सरकार, केन्द्र सरकार, तथा सभी सार्वजनिक विभागों को भी शामिल किया गया है । 

CBI की भर्ती –

CBI में दो प्रकार से भर्ती की जाती है

* सीधी भर्ती CBI में सीधी भर्ती सब इंस्पेक्टर के पद पर ही नियुक्ति की जाती है तथा जिसके चयन‌ की प्रक्रिया Selection Commission के द्वारा आयोजित संयुक्त स्नातक स्तर परीक्षा के माध्यम से होती है । 

* शैक्षणिक योग्यता – उम्मीदवार ने किसी की मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक परीक्षा को 55% अंकों के साथ पास करना होता है । तथा इसके साथ ही उम्मीदवार को SSC CGL exam को पास करना आवश्यक होता है । 

आयुउम्मीदवार की आयु 20 से 30 वर्ष के मध्य ही होनी चाहिए । और आरक्षित वर्ग के लिए आयु सीमा में छूट भी दी जाती है ‌ ‌।

* General – इस वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 30 वर्ष की आयु सीमा निर्धारित की गई हैं । 

* OBC – इस वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 27 वर्ष की आयु सीमा निर्धारित की गई हैं।

* SC/ST- इस वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 35 वर्ष की आयु सीमा निर्धारित की गई हैं । 

CBI में Sub inspector के लिए होने वाले Exam –

CBI Officer या Sub inspector बनने के लिए SSC के द्वारा CGL exam आयोजित किए जाते हैं और यह चार चरणों में सम्पन्न होते हैं – 

टियर 1 – 

यह परीक्षा का पहला चरण होता है जिसमें उम्मीदवारों से 20 अंकों के 100 वैकल्पिक प्रश्न पूछे जाते हैं । तथा इन प्रश्नों को हल करने के लिए उम्मीदवारों को 2 घंटे का समय दिया जाता है । ये सभी प्रश्नों इन विषयों पर आधारित होते हैं – 

* General knowledge से लिए गए प्रश्न जो कि 50 अंक के होते हैं ।

* General awareness से लिए गए प्रश्न जो‌ कि 50 अंक के होते हैं । 

* Quantative Aptitude से लिए गए प्रश्न जो कि 50अंक के होते हैं । 

* English से लिए गए प्रश्न जो कि 50 अंक के होते हैं । 

टियर – 2 –

यह परीक्षा का दूसरा चरण होता है जिसमें 2 पेपर होते हैं जो  कुल 400 अंकों का होता है । दोनों पेपरों के लिए उम्मीदवारों को 2-2 घंटे का समय दिया जाता है । पहले पेपर 200 अंकों के Quantative एलिजिबिलिटी पर आधारित 100 Objective type  प्रश्न पूछे जाते हैं । और दूसरा पेपर में English के Objective type प्रश्न पूछे जाते हैं । 

टियर – 3

यह परीक्षा का तीसरा चरण होता है जहां उम्मीदवारों का Personality test और Descriptive Written test होता है ‌ ।

 टियर – 4  

यह परीक्षा का आखिरी चरण होता है जहां उम्मीदवारों का Computer प्रवीणता का परीक्षण किया है तथा इसी चरण में उम्मीदवारों का Document Verification किया जाता है । 

CBI Officer की‌ सैलरी – 

CBI Officer की सैलरी योग्यता के आधार पर निर्भर करती है जैसे उनका पद क्या है उसके आधार पर भी निर्भर करता है CBI Officer को 9300 – 34,800 रूपए मिलते हैं तथा इसके साथ ही अन्य भत्ते भी दिए ‌जाते है ।