करेला | Karela ke Fayde | Benefits of Bitter-Gourd in Hindi

624
हिंदी नाम अंग्रेजी नाम (English Name) वैज्ञानिक नाम (Scientific Name)
करेला बिटर-गौर्द (Bitter-Gourd) मोमोर्डिका चरंशिया (Momordica Charantia)

 

करेले का वैज्ञानिक नाम मोमोर्डिका चरंशिया (Momordica Charantia) है। करेले का सेवन करने से मधुमेह (Diabetes), बवासीर (Piles), दमा (Asthma) और मलेरिया आदि बीमारियों में राहत मिलती है।

करेले के फायदे

  1. मधुमेह (Diabetes) की बीमारी में करेले का सेवन से राहत मिलती है।
  2. करेले के रस का सेवन करने से नज़र कमज़ोर होने की संभावना कम होती है।
  3. करेले के सेवन से बवासीर (Piles) की बीमारी में लाभ मिलता है।
  4. दमा (Asthma) की बीमारी में करेले का सेवन करना लाभप्रद होता है।
  5. कृमि की समस्या में बच्चों को करेले का सेवन कराना लाभदायक होता है।
  6. त्वचा से जुड़ी बीमारी जैसे कुष्ट रोग में करेले का सेवन करना लाभदायक होता है।
  7. करेले के सेवन से पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है और भूख बढ़ती है।
  8. करेले के सेवन से शरीर की रोग प्रतिरौधक शक्ति बढ़ती है।
  9. धुम्रपान करने वाले लोगों के लिए करेले का सेवन करना लाभप्रद होता है।
  10. करेले के सेवन से मलेरिया का उपचार करने में मदद मिलती है।
  11. करेले के रस का सेवन करने से रक्त साफ़ होता है जिससे मुहासे भी मिटते हैं।

करेले के नुकसान

  1. मधुमेह की बीमारी में करेले के अधिक सेवन से रक्तचाप (Blood Pressure) का स्तर अधिक कम हो सकता है।
  2. करेले के अधिक सेवन से गर्भवती महिलायों के गर्भ को हानि हो सकती है।
  3. करेले का अधिक सेवन करने से जिगर (Liver) में सूजन की समस्या हो सकती है।
  4. बच्चों को करेले का सेवन कराने से वमन (Vomiting) व दस्त (Diarrhea) जैसी समस्या हो सकती हैं।