भ्रष्टाचार स्लोगन | Bhrashtachar Slogan

2096

भ्रष्टाचार एक ऐसा नाम है जिसने आज हमारे समाज व सरकारी तंत्र को पूरी तरह से खोखला कर दिया है। भ्रष्टाचार के जरिये हर व्यक्ति बस खुद का काम निकलना चाहता है। चाहे वह किसी से पैसे लेता है या फिर काम करवाने के लिए पैसे देता है, वह भ्रष्टाचारी ही कहलायेगा। इससे भ्रष्टाचारियों को सहयोग मिल जाता है जो इसे निरंतर आगे बढाये जा रहा है। अगर हमें भ्रष्टाचार मुक्त देश चाहिए तो हमें सरकार के साथ–साथ प्रत्येक नागरिक को भी भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए अपना सहयोग देना होगा, तभी हम लोगों को भ्रष्टाचार से मुक्ति मिल पायेगी।

‘भ्रष्टाचार के विषय’ पर आधारित स्लोगन निम्नलिखित हैं।

स्लोगन.1

यह भ्रष्टाचार है देश के पतन का कारण, खत्म करने का लिए करें निवारण।

स्लोगन.2

लालच करता है जनता का शोषण, है यह भ्रष्टाचार बढ़ने का बड़ा कारण।

स्लोगन.3

भ्रष्टाचार को न आगे बढ़ाओ, रिश्वत न दो भले ही काम अपना न कराओ।

स्लोगन.4

भ्रष्टाचार को दूर करो, बेहतर देश का निर्माण करो।

स्लोगन.5

जब हर व्यक्ति सपोर्ट करेगा, तभी यह भ्रष्टाचार मिटेगा।

स्लोगन.6

भ्रष्टाचार को अगर भगाना है, हर नागरिक को आगे आना है।

स्लोगन.7

भ्रष्टाचार से है बुरा हाल, दूर करने को मचा बवाल।

स्लोगन.8

आओ हम एक उम्मीद बनें, भ्रष्टाचार को दूर करें।

स्लोगन.9

भ्रष्टाचार ने लूटा देश, चोरों ने बनाया अपना भ्रष्ट भेष।

स्लोगन.10

पूरे देश में बजाओ डंका, भ्रष्टाचार की जलाओ लंका।

स्लोगन.11

करप्शन नाम को दूर भगाओ, अच्छे बनो अच्छा समाज बनाओ।

स्लोगन.12

करप्शन का विरोध करो, सरकारी तंत्र में सुधार करो।

स्लोगन.13

चलो बने हम बेहतर उदाहरण, करप्शन का करें पतन।

स्लोगन.14

भ्रष्टाचारी लोग कर रहे है ऐश, बनाया इन्हीं लोगों ने भ्रष्ट देश।

स्लोगन.15

देश को उन्नति को ओर बढ़ाये, देश को भ्रष्टाचार से बचाए।

स्लोगन.16

उठो सोचो एक अलख जगायें, भ्रष्टाचार मुक्त जीवन जीने की कसम खायें।

स्लोगन.17

जिन्होंने देश को लूटा है, उनसे पैसा हमेशा रूठा है।

स्लोगन.18

हम हैं सबसे बड़े भ्रष्टाचारी, भ्रष्ट बनके न करें लाचारी।

स्लोगन.19

न पैसे ले- न पैसे दें, भ्रष्टाचार दूर करना है अपना योगदान दें।

स्लोगन.20

मेरा देश-तेरा देश, ऐसे कहकर न करो क्लेश।

स्लोगन.21

भ्रष्टाचार-करप्शन है जिसका नाम, खत्म करो इन्हें देश पायेगा मुकाम।