जिन शब्दों के अनेक अर्थ होते हैं, उन्हें अनेकार्थी शब्द कहते हैं।

अनेकार्थी शब्द | Anekarthi Shabd | Anonymously in Hindi
शब्दअनेकार्थी
कक्षापरिधि, समूह, छात्रों का समूह
कामइच्छा, कामदेव, कार्य, वासना
अरूणलाल, सूर्य, सिंदूर
कालसमय, मृत्यू
अंकगिनती के अंक, चिन्ह्, नाटक के अध्याय
अंगशरीर, टुकड़ा, भेद, पक्ष, सहायक, भाग, हिस्सा
अक्षरवर्ण ईश्वर, आत्मा, स्थिर, शिव, विष्णु
अधरहोंठ, आकाश, अनाधार, नीच, बुरा, चंचल
अमृतजल, दूध, अमर, अन्न, सुधा, पारा, प्रिय, सुन्दर, घी, धन, शिव
अरूणसूर्य का सारथी, लाल, सूर्य, गरूड़, तड़का, सिन्दूर, केसर
अतिथिमेहमान, अपरिचित, संन्यासी, आगन्तुक, अभ्यागत
अर्कसूर्य, सत्त्व, ताँबा, बिजली की चमक, स्फटिक, मदार, क्वाथ
आरामविश्राम, वाटिका, एक प्रकार का दण्डवत वृत्त, फुलवाड़ी
उर्मीलहर, पीड़ा, तरंग, प्रकाश, वेग, भंग, भूल
कंजकमल, सिर के बाल, अमृत ब्रह्म केश
कनकसोना, धतूरा, गेहूँ, आटा, खजूर, नाग केसर, पलास
कलमशीन, चैन, आने वाला कल, बीता हुआ कल, शान्ति, सुन्दर
कर्णकान, कुन्ती का पुत्र, समकोण, त्रिभुज के सामने की भुजा
कुशलचतुर, क्षेम (खैरियत), योग्य, कुल लाने वाला
कृष्णभगवान कृष्ण, काला, वेदव्यास
केतुएक ग्रह, ध्वजा, पुच्छल तारा, ज्ञान, प्रकाश
खगपक्षी, वाण, गन्धर्व, सूर्य, ग्रह, चंद्रमा, देवता, वायु
खलदवा कुटने का पात्र, धतूरा, दुष्ट
गणसमूह, छन्दों के तीन वर्णों का समूह, शिव के अनुचर
गुरूशिक्षक, बड़ा, माता-पिता, भारी, छन्द में दीर्घ
चपलाचंचल स्त्री, लक्ष्मी, बिजली, मदिरा, जीभ, भाँग
चश्मास्रोत, ऐनक, सोत
जड़मूल, मूर्ख, हठी, अचेतन, स्तब्ध, चेष्टाहीन, मूक, गूँगा
जरजल, जड़, ज्वर, जरा, वृद्धावस्था
जलजकमल, शंख, सीप, मोती, सेवार
जीवनजिन्दगी, वायु, जल, वृत्ति, प्राणधारण, पानी, घी, मज्जा
टीकातिलक, व्याख्या, चेचक आदि का टीका, धब्बा
ठाकुरजाति विशेष, भगवान, स्वामी, नाई, बड़ा
तालसंगीता का ताल, झील, तालाब, ताड़ का वृक्ष
तातपूज्य, पिता, गुरू, मित्र, भाई
द्रोणद्रोणाचार्य, कौआ, दोना, नाव
धनजोड़, स्त्री, सम्पत्ति, लाभ, द्रव्य, पूँजी, चैपायों का समूह
धारासन्तान, सेना, नियम, पानी का झरना, धार, झुण्ड
नाकस्वर्ग, इज्जत, एक फल, नासिका, आकार, मान
परपंख, ऊपर, दूसरा, किन्तु, पराया
पानीइज्जत, जल, चमक, शस्त्र की धार
बलिपितरों को दिया गया भोग, एक राजा, उपहार, न्यौछावर
भूतप्रेत, पंचभूत, बीता हुआ समय, मृत शरीर, सत्य
मधुशहद, बसन्त, पराग, चैत्रमास, ऋतु, शराब
मुद्रासिक्का, छापा, आकृति, कुण्डल, अँगूठी
रंगसातों रंग, आनन्द, विलास, नाटक का प्रदर्शन
विहंगपक्षी, वाण, बादल, विमान, सूर्य, चन्द्रमा, देवता
सूरवीर, अन्धा, एक कवि, सूर्य, अर्क, मदार, आचार्य, पण्डित
हंसआत्मा, योगी, श्वेत, घोड़ा, सूर्य, सरोवर का पक्षी
क्षेत्रशरीर, तीर्थ गृह, प्रकृति, खेल, स्त्री