Home अकबर बीरबल के किस्से

अकबर बीरबल के किस्से

बीरबल को प्रकृति से प्रेम था और अपना समय ज्यादातर बाहर खुली हवा में बिताते थे। उनकी सबसे पसंदीदा जगह शहंशाह अकबर के शाही बाग़ थे। इन शाही बागों की देखभाल एक मीर नाम का माली करता था। वो एक शांत स्वभाव का था, जो सीधी-साधी जिन्दगी जीता था...
उत्तर प्रदेश के आगरा शहर में दो महाजन हुआ करते थे। उनमें से एक का नाम नेकीराम था। वो एक सीधा-साधा शरीफ आदमी था, जो कभी अपने ग्राहकों से बेईमानी नहीं करता था। न उनसे ज्यादा ब्याज लेता था और कभी किसी की मदद करने से पीछे नहीं हटता...
शहंशाह अकबर एक दिन दरबार में अपना बच्चा गोद में बैठाकर बैठे हुये थे। राजा बीरबल और अन्य मंत्रियों के साथ....!  शहंशाह अकबर बोले - अल्लाह का रहम है, जो हमें दुनिया का सबसे खूबसूरत बेटा नसीब हुआ। दरबार में अन्य मंत्री उस बच्चे को देखकर बोले – अरे... व... क्या...
उत्तर प्रदेश के आगरा शहर में एक व्यापारी रहता था। उसका नाम लाला करोडी मल था। वो लालची और बेहद कंजूस था। लाला करोडी मल बीरबल का पडोसी भी था। लाला करोडी मल की पत्नी बोली - लाला जी घर के लिये कुछ सामान खरीदना है। मुझे कुछ रकम दे...
शहंशाह अकबर और बीरबल अपने अन्य मंत्रियों के साथ सभा में बैठे हुये थे। दरबार में एक सैफ अली नाम का किसान आया और बोला......! शहंशाह अकबर बोले सैफ अली किसान से – बोलो.....! कौन हो तुम ? हमसे क्या चाहते हो ? सैफ अली किसान बोला अकबर से - जहाँपनाह......!...
शहंशाह अकबर और उनकी बेगम साहिबा घर में आपस में बातचीत कर रहे थे। शहंशाह अकबर की बेगम साहिबा बोली - हमने अक्सर दरबार में आपको बीरबल की तरफदारी करते देखा है। शहंशाह अकबर बोले अपनी बेगम साहिबा से – हम आपको कितनी बार समझा चुके हैं कि हमारे सभी वजीरों...
शहंशाह अकबर और बीरबल अपने अन्य मंत्रियों के साथ दरबार में बैठे थे। शहंशाह अकबर बोले सभा में – हमें मानना होगा, कि हम काफी खुश नसीब हैं कि हमारे दरबार में बीरबल जैसे चालक और होशियार मंत्री हैं। बीरबल बोले अकबर से – शुक्रिया हुजूर......! शहंशाह अकबर बोले सभा में –...
शहंशाह अकबर के घर एक सफाईवाला सफाई कर रहा था, तो सफाई वाले से शहंशाह अकबर का पसंदीदा फूलदान टूट जाता है और सफाई वाला टूटे हुये फूलदान को घर से बहार ले जाता है। शहंशाह अकबर अपने घर आये, तो पसंदीदा फूलदान पर नजर गई तो बोले......! शहंशाह अकबर...
एक नाई शहंशाह अकबर की ठोड़ी के बाल बना रहा था। नाई बोला शहंशाह अकबर से - जहाँपनाह….! आप एक महान राजा हैं। देश-विदेश में हर कोई आपकी तारीफ करता है। शहंशाह अकबर बोले नाई से – शुक्रिया....! नाई बोला शहंशाह अकबर से – आप अपनी सल्तनत का पूरा ध्यान रखते हैं।...
एक तेली और कसाई में पैसे की थैली के ऊपर झगडा होता है। तेली बोला मेरी है और कसाई उस थैली को अपनी बताने लगा, तेली बोला राजा बीरबल के पास चलते हैं। तेली और कसाई राजा बीरबल के घर पहुंच जाते हैं। बीरबल का सेवक बोला तेली और कसाई...

खबरें छूट गयी हैं तो