आज भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी पश्चिमी उत्तर प्रदेश के नोएडा में आने वाले हैं। यूपी के नोएडा में PM मोदी के दौरे से करीब कुछ दिन पहले ही उद्घाटन के लिए चल रही तैयारियां समय से पहले ही पूरी हो गईं। आज PM मोदी यहां दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून-जे-इन के साथ सैमसंग की मोबाइल फैक्ट्री का उद्घाटन करेंगे। इसे दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री बताया जा रहा है। पीएम मोदी आज नोएडा में हैं, इसके लिए यूपी पुलिस ने ट्रैफिक एडवाइज़री जारी है। दौरे से पहले ही सेक्टर 14A से लेकर डीएनडी टोल तक भारी जाम लगा है। यहां पर करीब एक घंटे से जाम लगा हुआ है। नोएडा के सेक्टर 81 में स्थित सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स की 35 एकड़ में फैली इस फैक्ट्री का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून-जे-इन (आज) सोमवार को करेंगे। उनके हेलीकाप्टर को उतारने के लिए फैक्ट्री के पास ही हेलीपैड बनाया गया है।

पीएम के दौरे की वजह से दोपहर 4 बजे से लेकर शाम 7 बजे तक कई ट्रैफिक रूट में बदलाव किया गया है। हाल ही में पता चला है कि आज इन रास्तों पर भारी जाम रहने की पूर्ण संभावना है। चिल्ला गेट के रास्ते नोएडा, ग्रेटर नोएडा, ग्रेटर नोएडा वेस्ट, गाजियाबाद आदि स्थानों को जाने वाले वाहन चालक असुविधा से बचने हेतु NH 24 या अन्य वैकल्पिक मार्गों का प्रयोग कर सकते हैं। इसके अलावा DND के रास्ते नोएडा, अशोक नगर, ग्रेटर नोएडा, ग्रेटर नोएडा वेस्ट, गाजियाबाद आदि स्थानों को जाने वाले वाहन चालक असुविधा से बचने हेतु NH 24 या अन्य वैकल्पिक मार्गों का प्रयोग कर सकते हैं। एलिवेटेड सड़क, ग्रेटर नोएडा वेस्ट आदि स्थानों से DND के रास्ते दिल्ली जाने वाले वाहन चालक असुविधा से बचने हेतु NH 24 या अन्य वैकल्पिक मार्गों का प्रयोग कर सकते हैं।

यातायात के बारे में एडवाइजरी

माननीय प्रधानमंत्री व अन्य विशिष्ट अतिथिगणों के सड़क मार्ग से नोएड़ा भ्रमण के अवसर पर जन सामान्य से अनुरोध है कि दिनांक 09 जुलाई को सायं 6:00 बजे तक सुरक्षा कारणों व यातायात असुविधा से बचने हेतु NH 24 या किसी अन्य मार्ग का प्रयोग कर सकते है। इसके साथ ही ग्रेटर नोएडा, यमुना एक्सप्रेस वे, परी चौक से होते हुए नोएडा एक्सप्रेस वे के रास्ते DND से दिल्ली को जाने वाले वाहन चालक असुविधा से बचने हेतु अन्य वैकल्पिक मार्गों का प्रयोग कर सकते हैं।

गौरतलब है कि यहां सैमसंग दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री लगाने जा रहा है। कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स के मामले में दुनिया के मैप पर सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री होने का टैग चीन या दक्षिण कोरिया के पास नहीं है और अमेरिका के पास भी नहीं है, बल्कि अब उत्तर प्रदेश के शहर नोएडा को यह उपलब्धि हासिल होने जा रही है। दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून-जे-इन और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को सैमसंग के इस संयंत्र का उद्घाटन करेंगे। नोएडा के सेक्टर-81 में यह नई यूनिट 5000 करोड़ रुपये के निवेश से तैयार हुई है। सैमसंग दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री में चार से पांच लाख रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे।

.