1 मार्च का इतिहास | 1 March  Ka Itihas | History of 1 March in Hindi

353

भारत और विश्व के इतिहास में 1 मार्च का अपना एक खास स्थान है। 1 मार्च को भारत और विश्व में कई महत्वपूर्ण घटनाएँ घटित हुईं, जिनका जिक्र आज भी इतिहास के पन्नों में किया जाता है। आज 1 मार्च के दिन देश और दुनियाँ की कुछ महत्वपूर्ण बातें निम्नलिखित हैं-

  • 1 मार्च 1896 में वैज्ञानिक ‘ऑनरी बेकेरल; के एक प्रयोग के कारण रेडियोधर्मिता क्या होती है, इसका पहली बार पता चला।
  • 1 मार्च 1872 में दुनिया के पहले येलोस्टोन राष्ट्रीय उद्यान की स्थापना हुई थी।
  • 1 मार्च 1914 में चीन ‘यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन’ का सदस्य बना था।
  • 1 मार्च 1919 में जापानी साम्राज्यवाद के खिलाफ कोरिया में आज ही के दिन मार्च के आंदोलन की शुरुआत हुई।
  • 1 मार्च 1923 में ग्रीक ने ग्रेगोरीयन कैलेंडर अपनाया था।
  • 1 मार्च 1928 में भारतीय वैज्ञानिक सी. वी. रमन ने प्रकाश के विवर्तन का अपना शोध दुनिया के सामने पेश किया था।
  • 1 मार्च 1947 में अंतर्राष्ट्रीय निगराणी कोष ने कार्य आरंभ किया था।
  • 1 मार्च 1954 में अमेरिका ने बिकिनी द्वीप-समूह में हाइड्रोजन बम का परीक्षण किया था।
  • 1 मार्च 1966 में ब्रितानी वित्त मंत्री ‘जेम्स कैलाहन’ ने ब्रितानी मुद्रा व्यवस्था में परिवर्तन की घोषणा की।
  • 1 मार्च 1995 में इंटरनेट के सबसे लोकप्रिय सर्च इंजन्स में से एक सर्च इंजन याहू की शुरुआत हुई।
  • 1 मार्च 2006 में अमेरिकी राष्ट्रपति ‘जार्ज डब्ल्यू बुश’ राजकीय यात्रा पर भारत पहुँचे।
  • 1 मार्च 2009 में राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने चावला को अगले मुख्य चुनाव आयुक्त बनाने की घोषणा की।

1 मार्च के दिन, खास व्यक्तियों का जन्म हुआ।

  • 1 मार्च 1951 में बिहार के वर्तमान मुख्यमंत्री और लोकप्रिय नेता ‘नीतीश कुमार’ का जन्म हुआ।
  • 1 मार्च 1968 में भारतीय क्रिकेटर और टी.वी. अभिनेता ‘सलिल अंकोला’ का जन्म हुआ।
  • 1 मार्च 1968 में भारतीय महिला भारोत्तोलक खिलाड़ी ‘कुंजारानी देवी’ का जन्म हुआ।
  • 1 मार्च 1983 में ओलंपिक और कॉमनवेल्थ गेम्स में महिला मुक्केबाजी के लिए पदक जीतने वाले पहली महिला बॉक्सर ‘एम.सी. मैरीकॉम’ का जन्म हुआ।

1 मार्च के दिन, खास व्यक्तियों का निधन हुआ।

  • 1 मार्च 1914 में भारत का वाइसराय तथा गवर्नर-जनरल ‘लॉर्ड मिण्टो द्वितीय’ का निधन हुआ।
  • 1 मार्च 1917 में पंजाबी, हिंदी और उर्दू भाषाओं में लिखने वाले प्रसिद्ध साहित्यकारक ‘करतार सिंह दुग्गल’ का निधन हुआ।
  • 1 मार्च 1989 में भारतीय राजनीतिज्ञ ‘वसन्तदादा पाटिल’ का निधन हुआ।
  • 1 मार्च 1988 में हिन्दी के प्रसिद्ध कवि ‘सोहन लाल द्विवेदी’ का निधन हुआ।
  • 1 मार्च 2017 में गुजराती भाषा के प्रसिद्ध हास्य लेखक ‘तारक मेहता’ का 87 वर्ष की आयु में निधन हुआ।