जन्माष्टमी के त्यौहार पर अधिकतर लोग व्रत खोलने के लिए धनिये की पंजीरी का सेवन करते हैं। धनिये की पंजीरी के कई सारे स्वास्थ्य लाभ हैं, इसलिए इसे कभी भी किसी भी मौसम में खाया जा सकता है।

धनिये की पंजीरी बनाने के लिए आवश्यक सामग्री-

  • साबुत धनिया – 1 कप
  • बादाम – 1/2 कप
  • मखाना – 1 कप
  • गोंद – 50 ग्राम
  • पका नारियल – 100 ग्राम
  • काजू – 50 ग्राम
  • घी – 2 बड़े चम्मच
  • चीनी पाउड़र – 1/2 कप
  • चिरौंजी – 1/2 कप

धनिये की पंजीरी बनाने की विधि-

सबसे पहले एक पैन (कड़ाही) में धनिये को मंद आँच पर खुशबू आने तक भून लें। इसके बाद मखाने और गोंद को भी इसी तरह घी में भून लें।

अब धनिये, गोंद और मखाने को अलग-अलग कर ब्लेंड कर लें। गोंद तथा मखाने को दर-दरा ही पीेसें। काजू और बादाम को छोटे- छोटे टुकड़ों में काट लें। इसके बाद नारियल को कद्दूकस कर लें।

अब मखानों को धनिया पाउड़र में अच्छी तरह मिला लें। इसके साथ ही इसमें काजू, बादाम, चीनी, नारियल मिला लें। यदि घी कम लगे, तो और घी मिलाया जा सकता है। धनिये की पंजीरी तैयार है।